Monday, 27 February 2017

, , ,

BASIC SCHOOL : ANNUAL EXAM : उ0प्र0 बेसिक शिक्षा परिषद द्वारा संचालित परिषदीय प्राथमिक/उच्च प्राथमिक विद्यालयों की वार्षिक परीक्षा कराये जाने सम्बन्ध में समय सारिणी एवं आदेश जारी

,

UPTET 2017 : EXAM : टीईटी 2017 सितंबर में होने के आसार, मई से आवेदन लेने की बन रही योजना

टीईटी 2017 सितंबर में होने के आसार

राब्यू, इलाहाबाद : उप्र शिक्षक पात्रता परीक्षा का वर्ष 2017 में भी आयोजन एक बार ही हो पाएगा। विधानसभा चुनाव के कारण फरवरी में टीईटी कराने की योजना सफल नहीं हो सकी है। अब नई सरकार के गठन के बाद सचिव, परीक्षा नियामक प्राधिकारी की ओर से नए सिरे से इसका प्रस्ताव शासन को भेजा जाएगा। उम्मीद है कि परीक्षा सितंबर या फिर अक्टूबर में होगी। यूपीटीईटी 2016 का परिणाम जल्द आने के आसार हैं। इसके पहले ही सचिव, परीक्षा नियामक प्राधिकारी ने यूपीटीईटी 2017 को लेकर तैयारियां शुरू की थी। राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद (एनसीटीई) का निर्देश है कि टीईटी साल में दो बार आयोजित की जाए। निर्देश है कि साल में एक बार अनिवार्य रूप से परीक्षा कराई जाए। परीक्षा नियामक कार्यालय ने 2017 से दो बार टीईटी कराने की तैयारियां कई माह पहले ही शुरू कर दी थीं। उसके कुछ दिन बाद विधानसभा चुनाव की घोषणा के बाद योजना ठंडे बस्ते में चली गई। यूपी बोर्ड की परीक्षा को लेकर चुनाव आयोग ने जिस तरह से तेवर दिखाए उसके बाद से शिक्षा विभाग के अधिकांश अफसरों ने कुछ नया करने से किनारा कर लिया।

अब तैयारी है कि सूबे में नई सरकार बनने के बाद मार्च के अंत या फिर अप्रैल में टीईटी कराने का नया प्रस्ताव सचिव, परीक्षा नियामक प्राधिकारी की ओर से भेजा जाएगा। मई से आवेदन लेने एवं सितंबर या फिर अक्टूबर में इम्तिहान कराने की योजना बन रही है। ऐसे हालात में इस साल भी दो बार परीक्षा होने के बिल्कुल आसार नहीं है। सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी डा. सुत्ता सिंह ने बताया कि टीईटी के लिए नया प्रस्ताव होली के बाद भेजा जाएगा।

Sunday, 26 February 2017

, ,

ALLAHABAD:टीईटी का रिजल्ट हुआ तैयार आयोग की झंडी का इंतजार 🎯सचिव डा. सुत्ता सिंह ने बताया कि परीक्षा परिणाम तैयार हो गया है,अनुमति मिली तो 28 को रिजल्ट जारी करेंगे।

टीईटी का रिजल्ट हुआ तैयार आयोग की झंडी का इंतजार
🎯सचिव डा. सुत्ता सिंह ने बताया कि परीक्षा परिणाम तैयार हो गया है,अनुमति मिली तो 28 को रिजल्ट जारी करेंगे।

राज्य ब्यूरो, इलाहाबाद : उत्तर प्रदेश की शिक्षक पात्रता परीक्षा यानी टीईटी 2016 का परीक्षा परिणाम तैयार हो गया है। इस समय विधानसभा चुनाव की आचार संहिता लागू है। यूपी बोर्ड के परीक्षा कार्यक्रम पर आयोग की सख्ती के बाद से सतर्क परीक्षा नियामक प्राधिकारी सचिव ने चुनाव आयोग से परिणाम जारी करने की अनुमति मांगी है। साथ ही विभागीय अफसरों से मार्ग दर्शन लिया जा रहा है कि इसमें आचार संहिता आड़े तो नहीं आएगी। सूत्रों का कहना है कि अफसर रिजल्ट जारी करने के पक्ष में है। यदि सब कुछ दुरुस्त रहा तो 28 फरवरी को रिजल्ट घोषित किया जाएगा। इस बार टीईटी-2016 की परीक्षा प्रदेश के सभी जिलों के 858 केंद्रों पर हुई। सुबह की पाली में उच्च प्राथमिक के लिए पांच लाख एक हजार 821 व दूसरी पाली में प्राथमिक शिक्षक के लिए दो लाख 54 हजार 68 पंजीकृत में से दोनों पालियों में 92 फीसद अभ्यर्थी परीक्षा में शामिल हुए। उसके बाद परीक्षा नियामक प्राधिकारी सचिव एवं अन्य अफसरों का तबादला हो गया। नई सचिव डा. सुत्ता सिंह ने तय कार्यक्रम के मुताबिक की उत्तरकुंजी जारी कराई और अभ्यर्थियों से आपत्तियां ली। संशोधित उत्तरकुंजी भी पिछले दिनों जारी हो चुकी है। परीक्षा शेड्यूल के मुताबिक टीईटी का परिणाम 28 फरवरी तक आना है। सचिव डा. सिंह ने बताया कि परीक्षा परिणाम तैयार हो गया है। अनुमति मिली तो 28 को रिजल्ट जारी करेंगे, अन्यथा जैसा निर्देश होगा उसी के अनुरूप कार्य किया जाएगा।


,

ALLAHABAD:वार्षिक परीक्षाओं की तैयारियां हुईं तेज 🎯परिषद ने परीक्षा कार्यक्रम बनाकर अनुमोदन के लिए भेजा है, माना जा रहा है कि अगले सप्ताह कार्यक्रम का औपचारिक एलान हो जाएगा।



वार्षिक परीक्षाओं की तैयारियां हुईं तेज
🎯परिषद ने परीक्षा कार्यक्रम बनाकर अनुमोदन के लिए भेजा है, माना जा रहा है कि अगले सप्ताह कार्यक्रम का औपचारिक एलान हो जाएगा।
📚📚धर्मेश अवस्थी 📚
राज्य ब्यूरो, इलाहाबाद : बेसिक शिक्षा परिषद के प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक विद्यालयों की वार्षिक परीक्षाओं की तैयारियां तेज हो गई हैं। परिषद ने परीक्षा कार्यक्रम बनाकर अनुमोदन के लिए भेजा है, माना जा रहा है कि अगले सप्ताह कार्यक्रम का औपचारिक एलान हो जाएगा। शिक्षकों के चुनाव ड्यूटी में व्यस्त होने की वजह से होली बाद ही परीक्षा शुरू होने की उम्मीद है।माध्यमिक शिक्षा परिषद के शैक्षिक सत्र को लेकर उहापोह कायम है, लेकिन बेसिक शिक्षा परिषद का शैक्षिक सत्र अप्रैल माह से ही शुरू होगा। मौजूदा सत्र शुरू होने के पहले ही वार्षिक परीक्षाओं का आयोजन होना है। परिषद मुख्यालय से इसका प्रस्ताव भेजा जा चुका है। इस पर शिक्षा निदेशक बेसिक का अनुमोदन होना है। ऐसे संकेत है कि अगले सप्ताह इस संबंध में निर्देश जारी हो जाएंगे। परिषद की अर्धवार्षिक परीक्षाएं बीते अक्टूबर माह में हुई थी। उस समय तक सभी स्कूलों में पाठ्य पुस्तकें तक नहीं पहुंच सकी थी। विद्यालयों में सभी पुस्तकें वितरित हो चुकी हैं। चुनाव के कारण परीक्षा कार्यक्रम की घोषणा में भी विलंब हुआ है, लेकिन अब देरी करने में परीक्षाएं प्रभावित हो सकती हैं।


Text Widget 2

Recent Comments

Tags

Total Pageviews

Like on Facebook

Contact Form

Name

Email *

Message *

Labels

Labels

Add

Blogroll

Company

Popular Posts