New

डी० एल० एड० ( पूर्व प्रचलित नाम बी० टी० सी० ) प्रशिक्षण- 2017 के लिये ऑनलाइन आवेदन प्रारम्भ, समस्त नियम शर्ते अर्हता आदि को पढ़ते समझते हुए यहां से आवेदन करें

डी० एल० एड० ( पूर्व प्रचलित नाम बी० टी० सी० ) प्रशिक्षण- 2017 परीक्षा नियामक प्राधिकारी, इलाहाबाद, उत्तर प्रदेश STEP 1 आव...

Monday, 30 January 2017

ALLAHABAD:बीटीसी परीक्षाओं पर संकट के बादल ●2013 बैच के तृतीय व चतुर्थ सेमेस्टर की परीक्षाओं का मुहूर्त नहीं हो पा रहा तय



बीटीसी परीक्षाओं पर संकट के बादल
●2013 बैच  के तृतीय व चतुर्थ सेमेस्टर की परीक्षाओं का मुहूर्त नहीं हो पा रहा तय
राज्य ब्यूरो, इलाहाबाद : परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय बीटीसी 2013 के तृतीय व चतुर्थ सेमेस्टर की परीक्षाओं का मुहूर्त ही तय नहीं कर पा रहा है। पिछले दिनों किसी तरह इम्तिहान की तारीखें घोषित हुईं, लेकिन चंद दिनों में ही उस पर भी रोक लगा दी गई है। अभ्यर्थी यह समझ ही नहीं पा रहे हैं कि आखिर विलंब से चल रहा सत्र पूरा होने का नाम क्यों नहीं ले रहा है। वहीं, जो अभ्यर्थी अभी तक चौथे सेमेस्टर में पहुंचे ही नहीं, उनका प्रशिक्षण शुरू करा दिया गया है। 1प्रदेश में बीटीसी 2013 प्रथम व द्वितीय काउंसिलिंग के युवाओं का प्रशिक्षण पूरा हो चुका है। यह अभ्यर्थी शिक्षक बनने की दौड़ में शामिल हो गए हैं लेकिन तृतीय काउंसिलिंग के अभ्यर्थियों का हाल बुरा है। उनकी दूसरे सेमेस्टर की परीक्षा अगस्त-सितंबर 2016 में हुई। दिसंबर 2016 में ही तीसरे सेमेस्टर का इम्तिहान होना था लेकिन काफी विलंब के बाद उसका कार्यक्रम पिछले दिनों जारी किया गया। दो दिन बाद ही उस पर रोक लगा दी गई है। परीक्षा नियामक प्राधिकारी सचिव ने परीक्षाएं रोकने की स्पष्ट वजह बताने की जगह अपरिहार्य कारण गिनाया है। कई मर्तबा तृतीय सेमेस्टर के अभ्यर्थी परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय पर प्रदर्शन करके जल्द परीक्षा कराने की मांग कर चुके हैं। प्रदेश में ऐसे अभ्यर्थियों की संख्या करीब तीन से चार हजार है। अभ्यर्थियों को चौथे सेमेस्टर में एक माह तक पूर्व माध्यमिक विद्यालयों में पढ़ाना होता है।



Posted via Blogaway


Blog Archive

Blogroll