��हलचल एक नाम विश्वास का ��शिक्षा विभाग की समस्त खबरें एवं आदेश सबसे तेज एवं सबसे विश्वसनीय सिर्फ हलचल पर - सौरभ त्रिवेदी

Breaking

Friday, 13 January 2017

विज्ञान की पढ़ाई दिलाएगी वजीफा,उप्र राज्य विज्ञान प्रतिभा खोज के नाम से परीक्षा कराई जाएगी आयोजित, सफल छात्रों को पठन पाठन के लिए हर माह दो हजार की छात्रवृत्ति

विज्ञान की पढ़ाई दिलाएगी वजीफा,उप्र राज्य विज्ञान प्रतिभा खोज के नाम से परीक्षा कराई जाएगी आयोजित, सफल छात्रों को पठन पाठन के लिए हर माह दो हजार की छात्रवृत्ति

संजीव गिरि, ’ इलाहाबाद 1 अगर आप विज्ञान वर्ग से पढ़ाई कर रहे हैं तो परेशान होने की जरूरत नहीं है। पठन पाठन के लिए हर माह दो हजार की छात्रवृत्ति मिलेगी। विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी परिषद लखनऊ विज्ञान को बढ़ावा देने के उद्देश्य से प्रदेश भर के दो हजार विद्यार्थियों को छात्रवृत्ति देगा। उप्र राज्य विज्ञान प्रतिभा खोज के नाम से परीक्षा आयोजित कराई जाएगी। छात्रवृत्ति का लाभ लेने के लिए परीक्षार्थियों को विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी की वेबसाइट पर ऑनलाइन आवेदन करने होंगे। आवेदन करने की अंतिम तिथि तीस जनवरी है। छात्रवृत्ति के लिए कक्षा 10, व 12 के विद्यार्थी अप्लाई कर सकते हैं। वहीं छात्र आवेदन के पात्र होंगे जो साइंस वर्ग के हों। परीक्षा की तिथि 20 से 22 फरवरी व इंटरमीडिएट के विद्यार्थियों की 23 व 24 फरवरी निर्धारित है। पूरे प्रदेश में हाईस्कूल के एक हजार और इंटरमीडिएट के एक हजार विद्यार्थी लाभान्वित होंगे। उप्र राज्य विज्ञान प्रतिभा खोज परीक्षा जिला कोआर्डिनेटर धर्मेद्र कुमार सिंह ने बताया कि छात्रवृत्ति की परीक्षा में चयनित होने वाले प्रत्येक विद्यार्थी को दो हजार रुपये छात्रवृत्ति उनके खाते में दी जाएगी। बताया कि इंटर पास होने के बाद यदि विद्यार्थी बीएससी व उसके बाद एमएससी करता है तो उसे निरंतर व अनवरत रूप से छात्रवृत्ति मिलती रहेगी। 1यहां से पूछे जाएंगे प्रश्न : उप्र राज्य विज्ञान प्रतिभा खोज की परीक्षा को लेकर आवेदकों को परेशान होने की जरूरत नहीं है। परीक्षा में उनके कोर्स से ही विज्ञान, गणित, जीव विज्ञान, रसायन विज्ञान के प्रश्न पूछे जाएंगे। कोर्स से इतर कोई प्रश्न नहीं पूछा जाएगा। इसलिए इस परीक्षा में शामिल होने के लिए अतिरिक्त विषय पढ़ने की जरूरत नहीं होगी।

यूपी बोर्ड के विद्यार्थी ही कर सकेंगे आवेदन

इलाहाबाद : उप्र राज्य विज्ञान प्रतिभा खोज परीक्षा में यूपी बोर्ड से हाईस्कूल व इंटरमीडिएट करने वाले साइंस वर्ग के विद्यार्थी ही अप्लाई कर सकते हैं। यूपी बोर्ड के विद्यार्थियों को विज्ञान की मुख्य धारा से जोड़ने के लिए यह कवायद की जा रही है। जिला कोआर्डिनेटर के अनुसार अक्सर विज्ञान वर्ग के विद्यार्थी धन के अभाव में विज्ञान संबंधी मॉडल तैयार नहीं कर पाते हैं। विद्यार्थियों की वैज्ञानिक सोच को बढ़ावा देने और अधिक से अधिक मॉडल बनाने के मद्देनजर यह योजना क्रियान्वित की जा रही है।

Adbox