New

डी० एल० एड० ( पूर्व प्रचलित नाम बी० टी० सी० ) प्रशिक्षण- 2016 के लिये ऑनलाइन आवेदन प्रारम्भ, समस्त नियम शर्ते अर्हता आदि को पढ़ते समझते हुए यहां से आवेदन करें

डी० एल० एड० ( पूर्व प्रचलित नाम बी० टी० सी० ) प्रशिक्षण- 2016 परीक्षा नियामक प्राधिकारी, इलाहाबाद, उत्तर प्रदेश STEP 1 आवेदन पत्र भर...

Friday, 20 January 2017

स्कूलों में बह रही देश भक्ति की बयार,स्कूलों में राष्ट्रीय पर्व की तैयारियां जोरो पर, बेहतर परिणाम के लिए छात्रएं दो घंटे बहा रहीं पसीना

स्कूलों में बह रही देश भक्ति की बयार,स्कूलों में राष्ट्रीय पर्व की तैयारियां जोरो पर, बेहतर परिणाम के लिए छात्रएं दो घंटे बहा रहीं पसीना

सांस्कृतिक कार्यक्रमों की बहेगी बयार 1इलाहाबाद :

26 जनवरी को कॉलेज कैंपस में सांस्कृतिक कार्यक्रमों की धूम होगी। इसमें भारत माता, शहीदों के नाम एक कार्यक्रम, राष्ट्रीय गीत, विभिन्न प्रांत के नृत्य छात्रएं प्रस्तुत करेंगी।

जज्बा

यह है चयन का आधार इलाहाबाद :

राष्टीय पर्व में अपना कार्यक्रम प्रस्तुत करने के लिए छात्र को पहले कार्यक्रम की रूपरेखा बतानी होती है। साथ ही उसे अभिनय करके दिखाना होता है। उसी के आधार पर उसका चयन होता है।

जासं, इलाहाबाद : स्कूलों में गणतंत्र दिवस यानी 26 जनवरी की तैयारियां जोरों पर हैं। प्रतिदिन स्कूलों में छात्रएं दो घंटे रिहर्सल कर रही हैं। बेहतर परिणाम देने के उद्देश्य से छात्रएं ठंड में भी पसीना बहा रही हैं। छात्रओं की प्रतिभा निखारने को शिक्षक भी कोर कसर नहीं छोड़ रहे हैं। 1श्री नारायण आश्रम बालिका इंटर कॉलेज शिवकुटी में 26 जनवरी पर परेड, सांस्कृतिक कार्यक्रम, नुक्कड़ नाटक, देश भक्ति गीत व शहीदों के जीवन को मंच पर कलाकार मंचित करेंगे। कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए स्कूल स्तर पर दो टोलियां बनाई गई है। एक टोली में 12 छात्रएं शामिल हैं। छात्रओं को बेहतर परफार्मेस देने के लिए स्कूल प्रशासन प्रतिदिन दो घंटे अतिरिक्त समय दे रहा है। इस दौरान छात्रएं अपने कार्यक्रम को बेहतर तरीके से प्रस्तुति देने के लिए अभ्यास कर रही हैं। प्रिंसिपल विभा मिश्र ने बताया कि राष्ट्रीय पर्व की तैयारियां शुरू हो गई हैं। छात्रएं बेहतर तरीके से अभ्यासरत हैं। 1बैंड की धुन पर होती परेड 1छात्रएं बैंड की धुन पर परेड करती हैं। छात्रएं परेड में जरा सी भी चूक न कर सके इसलिए उनकी बैंड टीचर अर्चना मिश्र की निगाह उनके पैरों व शरीर की हर गतिविधि पर होती है। छात्रएं जैसे ही दिए जा रहे कमांड के विपरीत इधर उधर देखती हैं वैसे ही उन्हें टोक कर सचेत करती हैं। वह बताती हैं कि परेड करना आसान नहीं होता है। छात्रएं भी बेहतर तरीके से अभ्यास कर रही हैं।1

Blog Archive

Blogroll

Recommended Posts × +