Thursday, 19 January 2017

Filled Under: ,

ELECTION DUTY : अवकाश के दिन ही शिक्षकों की लगे निर्वाचन ड्यूटी,आयोग से अनुरोध किया गया है कि कोर्ट के निर्णय के अनुसार ही शिक्षकों को चुनाव कार्य में लगाया जाए

अवकाश के दिन ही शिक्षकों की लगे निर्वाचन ड्यूटी,आयोग से अनुरोध किया गया है कि कोर्ट के निर्णय के अनुसार ही शिक्षकों को चुनाव कार्य में लगाया जाए

राज्य ब्यूरो, इलाहाबाद : बच्चों की पढ़ाई को दांव पर लगाकर माध्यमिक शिक्षकों से चुनाव ड्यूटी कराना आसान नहीं होगा। माध्यमिक शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष रामजन्म सिंह व महामंत्री अवनींद्र पाण्डेय ने निर्वाचन आयोग से अनुरोध किया है कि अवकाश के दिन ही शिक्षकों की चुनाव में ड्यूटी लगाई जाए। इस संबंध में इलाहाबाद हाईकोर्ट की ओर से जारी आदेश की प्रति आयोग को भेजकर उसका अनुपालन करने की मांग की गई है। 1महामंत्री पाण्डेय ने बताया कि संगठन के आजमगढ़ जिले के जिलामंत्री पंकज सिंह व जिलाध्यक्ष इरफान अहमद की ओर से 2015 में इलाहाबाद हाईकोर्ट में जनहित याचिका दाखिल की गई थी। इसमें शिक्षकों को चुनाव ड्यूटी से अलग रखने का अनुरोध किया गया था। याचिका में दलील दी गई थी कि इससे शिक्षण कार्य प्रभावित होता है जिससे बच्चों को पढ़ाई का नुकसान होता है। 1बीते नौ जनवरी को न्यायमूर्ति वीके शुक्ल व न्यायमूर्ति संगीत चंद्रा ने सुप्रीम कोर्ट के निर्णीत केस का हवाला देते हुए चुनाव आयोग और अन्य समक्ष अधिकारियों को निर्देश दिया कि शिक्षण अवधि को छोड़कर अवकाश के समय ही शिक्षकों की ड्यूटी निर्वाचन कार्य में लगाई जाए। आयोग से अनुरोध किया गया है कि कोर्ट के निर्णय के अनुसार ही शिक्षकों को चुनाव कार्य में लगाया जाए।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

Text Widget 2