Sunday, 5 February 2017

Filled Under: ,

ALLAHABAD:अंग्रेजी विषय पर सीबीएसई अधिक फोकस कर रहा है ●केंद्रीय विद्यालय संगठन नई दिल्ली कम्युनिकेटिव स्किल डेवलपमेंट प्रोग्राम देश भर के सीबीएसई स्कूलों में शुरू कर रहा है। इन स्कूलों के अंग्रेजी शिक्षकों को मास्टर ट्रेनर अंग्रेजी विषय को और बेहतर तरीके से पढ़ाने के लिए ट्रेनिंग देंगे। ताकि उनसे पढ़ने वाले विद्यार्थी फटाफट अंग्रेजी बोल सकें।

अंग्रेजी विषय पर सीबीएसई अधिक फोकस कर रहा है
●केंद्रीय विद्यालय संगठन नई दिल्ली कम्युनिकेटिव स्किल डेवलपमेंट प्रोग्राम देश भर के सीबीएसई स्कूलों में शुरू कर रहा है। इन स्कूलों के अंग्रेजी शिक्षकों को मास्टर ट्रेनर अंग्रेजी विषय को और बेहतर तरीके से पढ़ाने के लिए ट्रेनिंग देंगे। ताकि उनसे पढ़ने वाले विद्यार्थी फटाफट अंग्रेजी बोल सकें।

संजीव गिरि, इलाहाबाद।केंद्रीय विद्यालय संगठन नई दिल्ली कम्युनिकेटिव स्किल डेवलपमेंट प्रोग्राम देश भर के सीबीएसई स्कूलों में शुरू कर रहा है। इन स्कूलों के अंग्रेजी शिक्षकों को मास्टर ट्रेनर अंग्रेजी विषय को और बेहतर तरीके से पढ़ाने के लिए ट्रेनिंग देंगे। ताकि उनसे पढ़ने वाले विद्यार्थी फटाफट अंग्रेजी बोल सकें। अंग्रेजी विषय पर सीबीएसई अधिक फोकस कर रहा है। दो चरणों में शिक्षकों को ट्रेनिंग दी जा रही है। दो ट्रेनिंग सेंटर बनाए गए हैं, जिसमें भुवनेश्वर व दिल्ली को शामिल किया गया है। मास्टर ट्रेनर तैयार करने की जिम्मेदारी इलाहाबाद केंद्रीय विद्यालय न्यू कैंट के शिक्षक अवनीश कुमार को जिम्मेदारी सौंपी गई है। दरअसल दिनों दिन प्रतियोगी परीक्षाओं में कंपटीशन बढ़ रहा है। प्रतियोगी परीक्षाओं में नित नए बदलाव हो रहे हैं। प्रतियोगी परीक्षाओं में अंग्रेजी विषय पर फोकस हो रहा है। इसी के मद्देनजर केंद्रीय विद्यालय संगठन नई दिल्ली ने यह पहल शुरू की है। 1नौ व दस फरवरी को दिल्ली में होगा प्रशिक्षण : नौ व दस फरवरी को सीबीएसई केंद्रीय बोर्ड परिसर दिल्ली में प्रत्येक स्कूल से एक शिक्षक व प्राचार्य को प्रशिक्षण दिया जाएगा। केंद्रीय विद्यालय न्यू कैंट इलाहाबाद के शिक्षक अश्वनी कुमार ने बताया कि गाजियाबाद, नोएडा, मुरादाबाद, शाहजहांपुर, मेरठ, अलीगढ़, आगरा, पानीपत समेत कई जिलों के शिक्षकों को प्रशिक्षण देने के लिए बुलाया गया है। यह शिक्षक प्रशिक्षण प्राप्त करने के बाद अपने स्कूल में मास्टर ट्रेनर तैयार करेंगे। वह अंग्रेजी विषय पर फोकस करेंगे। 1यहां के शिक्षकों ने प्राप्त किया प्रशिक्षण : मुंबई, राची, रायपुर, जबलपुर, कोलकता, चेन्नई, सिल्चर, तिनसुकिया, गुवाहाटी, बंगलुरु, हैदराबाद एर्नाकुलम के शिक्षक व प्राचार्य को भुवनेश्वर में दो व तीन फरवरी को प्रशिक्षण दिया जा चुका है। 1यहां से हुई थी शुरूआत : केंद्रीय विद्यालय संगठन वाराणसी संभाग के उपायुक्त डीटी सुदर्शन राव ने संभाग के 31 सीबीएसई स्कूलों में फरवरी 2016 में अंग्रेजी विषय को बेहतर तरीके से पढ़ाने के लिए शिक्षकों की ट्रेनिंग दिलाई थी। प्रशिक्षण के बाद प्रत्येक स्कूल में दो -दो मास्टर तैयार कराए थे। उन्हें अग्रेजी विषय पर फोकस करने पर बल दिया था।


0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

Text Widget 2