New

डी० एल० एड० ( पूर्व प्रचलित नाम बी० टी० सी० ) प्रशिक्षण- 2017 के लिये ऑनलाइन आवेदन प्रारम्भ, समस्त नियम शर्ते अर्हता आदि को पढ़ते समझते हुए यहां से आवेदन करें

डी० एल० एड० ( पूर्व प्रचलित नाम बी० टी० सी० ) प्रशिक्षण- 2017 परीक्षा नियामक प्राधिकारी, इलाहाबाद, उत्तर प्रदेश STEP 1 आव...

Tuesday, 28 February 2017

Baghpat:दिव्यांग बच्चे नही पढ़ने पर शिक्षको को नोटिस

दिव्यांग बच्चे नहीं पढ़ाने पर शिक्षकों को नोटिस

जागरण संवाददाता, बागपत : दिव्यांग बच्चों को तालीम नहीं देना शिक्षकों को अब महंगा पड़ेगा। बीएसए योगराज सिंह ने चौदह शिक्षकों को नोटिस जारी कर जवाब- तलब किया है। शासन दिव्यांग बच्चों का भविष्य संवारने को समेकित शिक्षा पर पानी की मानिंद पैसा बहाने में कसर नहीं छोड़ता है। छह से चौदह साल आयु के दिव्यांग बच्चों की शिक्षा को प्राथमिक स्कूलों में अलग से शिक्षक नियुक्त हैं। इसके बावजूद बागपत में गरीब परिवारों के दिव्यांग बच्चों को तालीम नहीं मिल रही है। बीएसए योगराज सिंह ने बड़ौत, बागपत, खेकड़ा, बिनौली और छपरौली आदि क्षेत्रों के शिक्षकों को नोटिस जारी कर नाराजगी जताई है।1बीएसए ने अमित कुमार, राजकुमार वर्मा, संजय यादव, विकास कुमार, राजपाल सिंह, लोकेश तोमर, कविता शर्मा, सीमा, लता देवी, परवेज आलम और योगेश कुमार को नोटिस जारी कर गत साल घर-घर जाकर दिव्यांग बच्चों को चिह्नित कर शिक्षा नहीं दी। दिव्यांग बच्चों को शैक्षिक सपोर्ट प्रदान न करना गंभीर मामला है। दिव्यांग बच्चों के चिह्नित नहीं होने से उनके शिक्षा को प्री-इंटीग्रेशन कैंप आयोजित नहीं होने से बागपत की छवि धूमिल हुई है। दिव्यांग बच्चों को चिह्न्ति कर पूरा ब्योरा उपलब्ध कराने का आदेश दिया है।जागरण संवाददाता, बागपत : दिव्यांग बच्चों को तालीम नहीं देना शिक्षकों को अब महंगा पड़ेगा। बीएसए योगराज सिंह ने चौदह शिक्षकों को नोटिस जारी कर जवाब- तलब किया है। शासन दिव्यांग बच्चों का भविष्य संवारने को समेकित शिक्षा पर पानी की मानिंद पैसा बहाने में कसर नहीं छोड़ता है। छह से चौदह साल आयु के दिव्यांग बच्चों की शिक्षा को प्राथमिक स्कूलों में अलग से शिक्षक नियुक्त हैं। इसके बावजूद बागपत में गरीब परिवारों के दिव्यांग बच्चों को तालीम नहीं मिल रही है। बीएसए योगराज सिंह ने बड़ौत, बागपत, खेकड़ा, बिनौली और छपरौली आदि क्षेत्रों के शिक्षकों को नोटिस जारी कर नाराजगी जताई है।1बीएसए ने अमित कुमार, राजकुमार वर्मा, संजय यादव, विकास कुमार, राजपाल सिंह, लोकेश तोमर, कविता शर्मा, सीमा, लता देवी, परवेज आलम और योगेश कुमार को नोटिस जारी कर गत साल घर-घर जाकर दिव्यांग बच्चों को चिह्नित कर शिक्षा नहीं दी। दिव्यांग बच्चों को शैक्षिक सपोर्ट प्रदान न करना गंभीर मामला है। दिव्यांग बच्चों के चिह्नित नहीं होने से उनके शिक्षा को प्री-इंटीग्रेशन कैंप आयोजित नहीं होने से बागपत की छवि धूमिल हुई है। दिव्यांग बच्चों को चिह्न्ति कर पूरा ब्योरा उपलब्ध कराने का आदेश दिया है।

Blog Archive

Blogroll