Lakhimpur: लापरवाही पर सेवा समाप्ति का नोटिस

March 02, 2017

लापरवाही पर सेवा समाप्ति का नोटिस
लंबे समय से बिना सूचना के गैरहाजिर

संवादसूत्र, लखीमपुर: विकास खंड कुंभी के उच्च प्राथमिक विद्यालय असर्फीगंज की सहायक अध्यापक शिखा वर्मा को लगातार दो जुलाई से गैरहाजिर रहने के कारण बीएसए ने तीन दिन में उपस्थित होकर स्पष्टीकरण देने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने अन्यथा की स्थिति में तत्काल प्रभाव से सेवा समाप्त करने की चेतावनी दी है। बीएसए ने शिक्षिका के वेतन पर अग्रिम आदेशों तक रोक लगा दी है। साथ ही प्रधानाध्यापक को निर्देश दिए हैं कि बगैर उनकी अनुमति के सहायक अध्यापक शिखा वर्मा के हस्ताक्षर उपस्थिति पंजिका पर न कराए जाएं। 1खंड शिक्षा अधिकारी कुंभी ने 25 फरवरी को भेजी अपनी रिपोर्ट में सहायक अध्यापिका शिखा वर्मा पर दो जुलाई से लगातार गैरहाजिर रहने की जानकारी दी थी। बीएसए ने माना है कि इससे यह स्पष्ट हो रहा है कि वह अपने कर्तव्यों और दायित्वों का निर्वहन नहीं कर रही हैं। बच्चों का शिक्षण कार्य प्रभावित हो रहा है। बीएसए ने खंड शिक्षा अधिकारी को यह निर्देश दिया है कि रजिस्टर्ड डाक से शिक्षिका को आदेश की प्रति भेज दी जाए। बीएसए ने विकास खंड पलिया के प्राथमिक विद्यालय परसिया के इंचार्ज प्रधानाध्यापक साकेत अवस्थी व सहायक अध्यापक अजय कुमार मिश्र का वेतन अग्रिम आदेशों तक अवरुद्ध कर दिया है। खंड शिक्षा अधिकारी ने 21 फरवरी को अपनी आख्या में बीएसए को सूचित किया था कि न्याय पंचायत पचपेड़ा के समन्वयक देवेश दुबे ने प्राथमिक विद्यालय परसिया का निरीक्षण किया था। निरीक्षण के दौरान इंचार्ज प्रधानाध्यापक से उपस्थिति पंजिका व एमडीएम पंजिका मांगी थी। उन्होंने पंजिकाएं न देकर मौखिक रूप से शिक्षकों की अनुपस्थिति के बारे में अनभिज्ञता प्रकट की। समन्वयक ने इंचार्ज प्रधानाध्यापक पर अभद्रता पूर्ण व्यवहार करने व शारीरिक क्षति पहुंचाने की धमकी देने का आरोप लगाया था। पूर्व निरीक्षण में एमडीएम मीनू के अनुसार विद्यालय में बना नहीं मिला था। बीएसए ने इनके वेतन अग्रिम आदेशों तक रोक दिए हैं। इसी प्रकार विकास खंड पलिया के उच्च प्राथमिक विद्यालय छेदिया पश्चिम के सहायक अध्यापक अनुराग सक्सेना का वेतन अग्रिम आदेश तक रोक दिया गया है। खंड शिक्षा अधिकारी ने 21 फरवरी को अपनी आख्या में सूचित किया था कि आठ फरवरी को सह समन्वयक सुरेश चंद्रा ने विद्यालय का आकस्मिक निरीक्षण किया था। निरीक्षण में सहायक अध्यापक अनुराग सक्सेना गायब मिले। पांच नवंबर 2016 को भी निरीक्षण में अनुपस्थित पाए गए थे।संवादसूत्र, लखीमपुर: विकास खंड कुंभी के उच्च प्राथमिक विद्यालय असर्फीगंज की सहायक अध्यापक शिखा वर्मा को लगातार दो जुलाई से गैरहाजिर रहने के कारण बीएसए ने तीन दिन में उपस्थित होकर स्पष्टीकरण देने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने अन्यथा की स्थिति में तत्काल प्रभाव से सेवा समाप्त करने की चेतावनी दी है। बीएसए ने शिक्षिका के वेतन पर अग्रिम आदेशों तक रोक लगा दी है। साथ ही प्रधानाध्यापक को निर्देश दिए हैं कि बगैर उनकी अनुमति के सहायक अध्यापक शिखा वर्मा के हस्ताक्षर उपस्थिति पंजिका पर न कराए जाएं। 1खंड शिक्षा अधिकारी कुंभी ने 25 फरवरी को भेजी अपनी रिपोर्ट में सहायक अध्यापिका शिखा वर्मा पर दो जुलाई से लगातार गैरहाजिर रहने की जानकारी दी थी। बीएसए ने माना है कि इससे यह स्पष्ट हो रहा है कि वह अपने कर्तव्यों और दायित्वों का निर्वहन नहीं कर रही हैं। बच्चों का शिक्षण कार्य प्रभावित हो रहा है। बीएसए ने खंड शिक्षा अधिकारी को यह निर्देश दिया है कि रजिस्टर्ड डाक से शिक्षिका को आदेश की प्रति भेज दी जाए। बीएसए ने विकास खंड पलिया के प्राथमिक विद्यालय परसिया के इंचार्ज प्रधानाध्यापक साकेत अवस्थी व सहायक अध्यापक अजय कुमार मिश्र का वेतन अग्रिम आदेशों तक अवरुद्ध कर दिया है। खंड शिक्षा अधिकारी ने 21 फरवरी को अपनी आख्या में बीएसए को सूचित किया था कि न्याय पंचायत पचपेड़ा के समन्वयक देवेश दुबे ने प्राथमिक विद्यालय परसिया का निरीक्षण किया था। निरीक्षण के दौरान इंचार्ज प्रधानाध्यापक से उपस्थिति पंजिका व एमडीएम पंजिका मांगी थी। उन्होंने पंजिकाएं न देकर मौखिक रूप से शिक्षकों की अनुपस्थिति के बारे में अनभिज्ञता प्रकट की। समन्वयक ने इंचार्ज प्रधानाध्यापक पर अभद्रता पूर्ण व्यवहार करने व शारीरिक क्षति पहुंचाने की धमकी देने का आरोप लगाया था। पूर्व निरीक्षण में एमडीएम मीनू के अनुसार विद्यालय में बना नहीं मिला था। बीएसए ने इनके वेतन अग्रिम आदेशों तक रोक दिए हैं। इसी प्रकार विकास खंड पलिया के उच्च प्राथमिक विद्यालय छेदिया पश्चिम के सहायक अध्यापक अनुराग सक्सेना का वेतन अग्रिम आदेश तक रोक दिया गया है। खंड शिक्षा अधिकारी ने 21 फरवरी को अपनी आख्या में सूचित किया था कि आठ फरवरी को सह समन्वयक सुरेश चंद्रा ने विद्

Share this

Related Posts

Previous
Next Post »