��हलचल एक नाम विश्वास का ��शिक्षा विभाग की समस्त खबरें एवं आदेश सबसे तेज एवं सबसे विश्वसनीय सिर्फ हलचल पर - सौरभ त्रिवेदी

Breaking

Friday, 14 April 2017

7TH PAY COMMISSION : शिक्षकों को जल्द मिलेगा सातवें वेतन आयोग का लाभ,लंबे इंतजार के बाद राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र ने वेतन का साफ्टवेयर तैयार कर लिया है,जिलों में इंस्टॉल कराया जा रहा

शिक्षकों को जल्द मिलेगा सातवें वेतन आयोग का लाभ

राज्य ब्यूरो, इलाहाबाद : प्रदेश के पांच लाख परिषदीय शिक्षक व कर्मचारियों को जल्द ही सातवें वेतन आयोग के अनुरूप भुगतान मिलेगा। लंबे इंतजार के बाद राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र ने वेतन का साफ्टवेयर तैयार कर लिया है। अब उसे जिलों में इंस्टॉल कराया जा रहा है। साथ ही यह भी निर्देश जारी हुए हैं कि वेतन पैकेज के अनुरूप बिल बनाए जाएं, ताकि भुगतान में देरी न हो।1प्रदेश में सातवें वेतन आयोग की सिफारिशें पहले ही सरकार स्वीकार कर चुकी है, लेकिन बेसिक शिक्षा परिषद के शिक्षक व कर्मचारियों को नये वेतनमान के अनुरूप लाभ नहीं मिल सका था। इसकी वजह सातवें वेतन आयोग के मुताबिक साफ्टवेयर तैयार नहीं हो पाया था। इस मामले को लेकर शिक्षकों ने पिछले महीने चाक डाउन हड़ताल तक की थी। अफसर यह भी नहीं बता पा रहे थे कि आखिर इसका लाभ कब से मिल सकेगा। लंबे इंतजार के बाद अब शिक्षक व कर्मचारियों को लाभ पाने की घड़ी आ गई है।1परिषद के वित्त नियंत्रक मणिशंकर पांडेय ने सभी जिलों के वित्त एवं लेखाधिकारियों को निर्देश भेजा है कि राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र लखनऊ ने नया साफ्टवेयर तैयार करा दिया है। शिक्षक व कर्मचारियों के वर्तमान साफ्टवेयर को अपने कंप्यूटर पर डाउनलोड कराकर इंस्टॉल कराएं। उसके बाद सातवें वेतन पैकेज के आधार पर बिल तैयार करें। 1यह भी कहा गया है कि यदि वेतन पैकेज के साफ्टवेयर में किसी तरह की दिक्कत आती है तो वरिष्ठ तकनीकी निदेशक से संपर्क कर सकते हैं। इस आदेश से पांच लाख शिक्षकों व कर्मचारियों में खुशी की लहर है। दूरस्थ बीटीसी शिक्षक संघ के अनिल कुमार यादव ने मांग की है कि मार्च के वेतन के साथ जनवरी व फरवरी का एरियर भी दिया जाए, ताकि शिक्षक-कर्मचारियों की सारी समस्या खत्म हो जाए।1उद्यान निरीक्षक से जवाब तलब1इलाहाबाद : चंद्रशेखर आजाद पार्क में जानवर घुस जाने से कई जगह जॉगिंग ट्रैक खराब हो गया है। यह जानकारी मिलने पर डीएम संजय कुमार ने उद्यान निरीक्षक से जवाब तलब किया है।राज्य ब्यूरो, इलाहाबाद : प्रदेश के पांच लाख परिषदीय शिक्षक व कर्मचारियों को जल्द ही सातवें वेतन आयोग के अनुरूप भुगतान मिलेगा। लंबे इंतजार के बाद राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र ने वेतन का साफ्टवेयर तैयार कर लिया है। अब उसे जिलों में इंस्टॉल कराया जा रहा है। साथ ही यह भी निर्देश जारी हुए हैं कि वेतन पैकेज के अनुरूप बिल बनाए जाएं, ताकि भुगतान में देरी न हो।1प्रदेश में सातवें वेतन आयोग की सिफारिशें पहले ही सरकार स्वीकार कर चुकी है, लेकिन बेसिक शिक्षा परिषद के शिक्षक व कर्मचारियों को नये वेतनमान के अनुरूप लाभ नहीं मिल सका था। इसकी वजह सातवें वेतन आयोग के मुताबिक साफ्टवेयर तैयार नहीं हो पाया था। इस मामले को लेकर शिक्षकों ने पिछले महीने चाक डाउन हड़ताल तक की थी। अफसर यह भी नहीं बता पा रहे थे कि आखिर इसका लाभ कब से मिल सकेगा। लंबे इंतजार के बाद अब शिक्षक व कर्मचारियों को लाभ पाने की घड़ी आ गई है।1परिषद के वित्त नियंत्रक मणिशंकर पांडेय ने सभी जिलों के वित्त एवं लेखाधिकारियों को निर्देश भेजा है कि राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र लखनऊ ने नया साफ्टवेयर तैयार करा दिया है। शिक्षक व कर्मचारियों के वर्तमान साफ्टवेयर को अपने कंप्यूटर पर डाउनलोड कराकर इंस्टॉल कराएं। उसके बाद सातवें वेतन पैकेज के आधार पर बिल तैयार करें। 1यह भी कहा गया है कि यदि वेतन पैकेज के साफ्टवेयर में किसी तरह की दिक्कत आती है तो वरिष्ठ तकनीकी निदेशक से संपर्क कर सकते हैं। इस आदेश से पांच लाख शिक्षकों व कर्मचारियों में खुशी की लहर है। दूरस्थ बीटीसी शिक्षक संघ के अनिल कुमार यादव ने मांग की है कि मार्च के वेतन के साथ जनवरी व फरवरी का एरियर भी दिया जाए, ताकि शिक्षक-कर्मचारियों की सारी समस्या खत्म हो जाए।1उद्यान निरीक्षक से जवाब तलब1इलाहाबाद : चंद्रशेखर आजाद पार्क में जानवर घुस जाने से कई जगह जॉगिंग ट्रैक खराब हो गया है। यह जानकारी मिलने पर डीएम संजय कुमार ने उद्यान निरीक्षक से जवाब तलब किया है।

Adbox