More Services

Sunday, 16 April 2017

ALLAHABAD:स्कूलों की मनमानी जारी, छात्रों का आंदोलन कठोर विरोध 🎯प्रशासन ने जांच कमेटी तो बना दी है, लेकिन स्कूलों को कागजात पेश करने के लिए लंबा समय दे दिया है। यही वजह रही कि आंदोलनरत है विद्यार्थी।

स्कूलों की मनमानी जारी, छात्रों का आंदोलन कठोर
विरोध
🎯प्रशासन ने जांच कमेटी तो बना दी है, लेकिन स्कूलों को कागजात पेश करने के लिए लंबा समय दे दिया है। यही वजह रही कि आंदोलनरत है विद्यार्थी।
जासं, इलाहाबाद।निजी स्कूलों की मनमानी के खिलाफ अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद का आंदोलन अब तीखा होता जा रहा है। तीन दिन से दो छात्रों का आमरण अनशन शनिवार को भी जारी रहा, उधर छात्रों ने जुलूस निकालकर नारेबाजी की। रोड जाम किया और जिलाधिकारी आवास के बाहर नारेबाजी भी की। अभिभावक संगठनों ने भी अलग-अगल धरना प्रदर्शन किया।1निजी स्कूलों में फीस आदि की मनमानी के में आंदोलन के चलते प्रशासन ने जांच कमेटी तो बना दी है, लेकिन स्कूलों को कागजात पेश करने के लिए लंबा समय दे दिया है। यही वजह रही कि आंदोलनरत विद्यार्थी परिषद ने इस जांच को ही सिरे से खारिज कर दिया था। कई दिन से क्रमिक अनशन करने के बाद पूर्व घोषणा के अनुसार परिषद के दो नेता रिंकू पयासी और अनुज शर्मा तीन दिन से आमरण अनशन पर कलेक्ट्रेट में बैठे हैं। दोनों की सेहत में काफी गिरावट आने के बावजूद प्रशासन ने इनका चिकित्सकीय परीक्षण तक नहीं करवाया है। ऐसे में परिषद के छात्र शनिवार को बड़ी संख्या में कचहरी में एकत्र हुए और सड़क तक जुलूस निकाला। डीएम आवास के गेट पर प्रदर्शन किया। अनशनरत छात्रों का कहना है कि जब तक प्रशासन सच्ची कार्रवाई नहीं करता है, आंदोलन जारी रहेगा। प्रदर्शन करने वालों में वैभव ओझा, विजय प्रताप,अजय उपाध्याय, जीतू मिश्र, संदीप मौर्य, विद्यासागर मिश्र, संगीता मिश्र, अंकित सिंह रहे। उधर, राष्ट्रीय युवा क्रांतिकारी अभिभावक मोर्चा ने आजाद पार्क में एक मीटिंग करके इस मनमानी के में सोमवार से स्कूलों में तालाबंदी करने का एलान कर दिया है। बैठक में सरिता सिंह, अतुल खन्ना, अंजू खन्ना, पलक, रिया, अतुल तिवारी, रामप्रकाश गुप्ता समेत अनेक अभिभावक थे। अभिभावक एकता समिति ने स्कूल प्रबंधन के खिलाफ सुभाष चौराहे पर धरना प्रदर्शन किया।


Like on Facebook