��हलचल एक नाम विश्वास का ��शिक्षा विभाग की समस्त खबरें एवं आदेश सबसे तेज एवं सबसे विश्वसनीय सिर्फ हलचल पर - सौरभ त्रिवेदी

Breaking

Sunday, 23 April 2017

ALLAHABAD: राज्य उच्च शिक्षा पुरस्कार का हाल बेहाल

राज्य उच्च शिक्षा पुरस्कार का हाल-बेहाल

राज्य ब्यूरो, इलाहाबाद : प्रदेश सरकार उच्च शिक्षा क्षेत्र में उत्कृष्ट योगदान देने वाले शिक्षकों को राज्य स्तरीय शिक्षक पुरस्कार से हर साल सम्मानित करती है। 2017 के पुरस्कार के लिए शिक्षकों से ऑनलाइन आवेदन मांगे गए हैं, लेकिन 2016 का पुरस्कार किसे मिलना है यह अब तक घोषित नहीं है। 1उच्च शिक्षा के राज्य विश्वविद्यालय, महाविद्यालय व स्ववित्त पोषित कालेज के शिक्षकों को इसमें हर साल पुरस्कार मिलता है, नियमानुसार इसे शिक्षक दिवस पांच सितंबर को दिया जाता है, लेकिन एक साल से यह पुरस्कार लंबित है। हालांकि प्राथमिक व माध्यमिक विद्यालयों के भी शिक्षक राज्य स्तरीय पुरस्कार पाते हैं, लेकिन उच्च शिक्षा में पुरस्कार के लिए चयनित हुए शिक्षकों की प्रक्रिया पारदर्शी है। आवेदन करने वाले शिक्षक उसी समय जान लेते हैं कि फलां पुरस्कार किसको जा रहा है, क्योंकि हर कार्य का यहां अंक तय है। वर्ष 2014 तक उच्च शिक्षा का पुरस्कार तय समय पर मिलता रहा है, लेकिन 2015 से पूरी प्रक्रिया गड़बड़ा गई है। इसीलिए 2015 का पुरस्कार मई 2016 में दिया गया और 2016 का पुरस्कार किसे मिलना है उनके नाम अब तक घोषित नहीं हो सके हैं। 1उच्च शिक्षा निदेशक डा. आरपी सिंह ने पिछले वर्ष का पुरस्कार बांटे बिना 2017 के लिए आवेदन करने का विज्ञापन जारी कर दिया है। 2016 का पुरस्कार क्यों नहीं मिला है और कब तक मिलेगा इस पर वह कुछ भी कहने को तैयार नहीं है।राज्य ब्यूरो, इलाहाबाद : प्रदेश सरकार उच्च शिक्षा क्षेत्र में उत्कृष्ट योगदान देने वाले शिक्षकों को राज्य स्तरीय शिक्षक पुरस्कार से हर साल सम्मानित करती है। 2017 के पुरस्कार के लिए शिक्षकों से ऑनलाइन आवेदन मांगे गए हैं, लेकिन 2016 का पुरस्कार किसे मिलना है यह अब तक घोषित नहीं है। 1उच्च शिक्षा के राज्य विश्वविद्यालय, महाविद्यालय व स्ववित्त पोषित कालेज ��

Adbox