��हलचल एक नाम विश्वास का ��शिक्षा विभाग की समस्त खबरें एवं आदेश सबसे तेज एवं सबसे विश्वसनीय सिर्फ हलचल पर - सौरभ त्रिवेदी

Breaking

Tuesday, 4 April 2017

प्राथमिक शिक्षा अभ्यर्थियों ने स्वास्थ्य मंत्री का किया घेराव


शिक्षा अभ्यर्थियों ने स्वास्थ्य मंत्री का किया घेराव


इलाहाबाद : प्राथमिक शिक्षा अभ्यार्थियों ने स्वास्थ्य मंत्री सिद्घार्थ नाथ सिंह का घेराव किया और अपनी मांग उनके समक्ष रखीं। उनसे बंद चल रही विभागीय नियुक्ति को फिर से चालू करने की मांग रखी। स्वास्थ्य मंत्री ने उनकी मांगों को गंभीरता से सुना और आश्वस्त किया कि नियुक्ति प्रक्रिया की जांच हो रही है, जल्द ही फिर से नियुक्ति शुरू होगी। 1फूंका प्रशांत भूषण का पुतला1अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने सोमवार को वरिष्ठ अधिवक्ता प्रशांत भूषण का पुतला फूंका। परिषद के सदस्यों ने उन्हें हंिदूू विरोधी करार देते हुए उनके खिलाफ एफआइआर दर्ज करने की मांग की। एबीवीपी के महानगर मंत्री रिंकू पयासी ने कहा कि प्रशांत भूषण को कोई अधिकार नहीं है कि वह हमारे हंिदूू देवी-देवताओं के बारे में कोई अभद्र टिप्पणी करें। यदि प्रशांत भूषण अपनी हरकतों से बाज नहीं आते हैं तो परिषद उनके खिलाफ देशव्यापी आंदोलन चलाएगा। परिषद के सदस्यों ने कहा कि प्रशांत भूषण निरंतर देश विरोधी गतिविधियों में लिप्त रहे हैं। वह हंिदूू आस्था के केंद्र भगवान श्रीकृष्ण के खिलाफ जहर उगल रहे हैं। ये स्वीकार नहीं होगा। सचिन मिश्र ने प्रशांत भूषण को देशद्रोही करार देते हुए कहा कि उनको देवी-देवताओं के खिलाफ बोलने का कोई अधिकार नहीं है। प्रदर्शन में विपिन तिवारी, गोपाल शकोहा, चंदन तिवारी, अनुज शर्मा, संतेश्वर द्विवेदी, बच्चा निषाद, अनु शुक्ल और दीपक त्रिपाठी आदि रहे।इलाहाबाद : प्राथमिक शिक्षा अभ्यार्थियों ने स्वास्थ्य मंत्री सिद्घार्थ नाथ सिंह का घेराव किया और अपनी मांग उनके समक्ष रखीं। उनसे बंद चल रही विभागीय नियुक्ति को फिर से चालू करने की मांग रखी। स्वास्थ्य मंत्री ने उनकी मांगों को गंभीरता से सुना और आश्वस्त किया कि नियुक्ति प्रक्रिया की जांच हो रही है, जल्द ही फिर से नियुक्ति शुरू होगी। 1फूंका प्रशांत भूषण का पुतला1अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने सोमवार को वरिष्ठ अधिवक्ता प्रशांत भूषण का पुतला फूंका। परिषद के सदस्यों ने उन्हें हंिदूू विरोधी करार देते हुए उनके खिलाफ एफआइआर दर्ज करने की मांग की। एबीवीपी के महानगर मंत्री रिंकू पयासी ने कहा कि प्रशांत भूषण को कोई अधिकार नहीं है कि वह हमारे हंिदूू देवी-देवताओं के बारे में कोई अभद्र टिप्पणी करें। यदि प्रशांत भूषण अपनी हरकतों से बाज नहीं आते हैं तो परिषद उनके खिलाफ देशव्यापी आंदोलन चलाएगा। परिषद के सदस्यों ने कहा कि प्रशांत भूषण निरंतर देश विरोधी गतिविधियों में लिप्त रहे हैं। वह हंिदूू आस्था के केंद्र भगवान श्रीकृष्ण के खिलाफ जहर उगल रहे हैं। ये स्वीकार नहीं होगा। सचिन मिश्र ने प्रशांत भूषण को देशद्रोही करार देते हुए कहा कि उनको देवी-देवताओं के खिलाफ बोलने का कोई अधिकार नहीं है। प्रदर्शन में विपिन तिवारी, गोपाल शकोहा, चंदन तिवारी, अनुज शर्मा, संतेश्वर द्विवेदी, बच्चा निषाद, अनु शुक्ल और दीपक त्रिपाठी आदि रहे।सर्किट हाउस में प्राथमिक शिक्षा अभ्यर्थियों ने स्वास्थ्य मंत्री सिद्घार्थ नाथ सिंह का घेराव किया।
Adbox