UP BOARD : हर परीक्षक को देना होगा मूल्यांकन का हलफनामा

April 25, 2017

हर परीक्षक को देना होगा मूल्यांकन का हलफनामा
यूपी बोर्ड में बदला नियम
जागरण विशेष
मूल्यांकन में गलती पर परीक्षक होंगे डिबार
बोर्ड ने तैयार कर भेजा हर जिले में आठ बिंदळ् का परीक्षक घोषणा पत्रक

धर्मेश अवस्थी, इलाहाबाद 1यूपी बोर्ड की हाईस्कूल व इंटर की उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन में अब मनमानी नहीं चलेगी। अनमने तरीके से कॉपियां जांचना और यूं ही अंकों की रेवड़ियां बांटने पर इस बार प्रभावी अंकुश लगना तय हो गया है। बोर्ड प्रशासन अब हर परीक्षक से मूल्यांकन का हलफनामा लेगा। उसे लिखकर देना होगा कि जो कॉपियां उसने जांची हैं उसमें कोई त्रुटि नहीं है यदि मूल्यांकन में गलती रह गई है तो वह दंड भुगतने को तैयार है। माध्यमिक शिक्षा परिषद यानी यूपी बोर्ड की हाईस्कूल व इंटर की उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन 27 अप्रैल से शुरू होने जा रहा है। उसके पहले हर जिला मुख्यालय पर विस्तृत दिशा-निर्देश पहुंच रहे हैं। इस बार मूल्यांकन में कुछ बदलाव हुए हैं। असल में कॉपी का गलत मूल्यांकन करने पर परीक्षक को डिबार करने, उसके पारिश्रमिक से कटौती करने जैसे निर्देश पहले से हैं। इसके बाद भी बोर्ड प्रशासन प्रभावी तरीके से परीक्षकों पर कार्रवाई नहीं कर पाता रहा है। इसीलिए परीक्षकों से हलफनामा लेने का निर्देश जारी हुआ है, ताकि चूक मिलने पर यह प्रभावी दस्तावेज होगा, जिसके आधार पर कार्रवाई की जाए। बोर्ड प्रशासन इसके पहले केवल उन परीक्षकों से केवल अर्हता का हलफनामा लेता था। मसलन, भौतिक विज्ञान का शिक्षक लिखकर देता था कि वह इसी विषय का शिक्षक है। इस बार से बोर्ड ने हर जिले में आठ बिंदु का परीक्षक घोषणा पत्रक तैयार कराकर भिजवाया है। इसमें लिखा है कि मैंने सारे प्रश्नों का सही से मूल्यांकन किया है। सभी सही प्रश्नों पर अंक दिये हैं और गलत को काटकर शून्य अंक दिया है। सभी प्रश्नों में दिए गए अं

Share this

Related Posts

Previous
Next Post »