बेसिक शिक्षा परिषद के शिक्षकों और शिक्षणेत्तर कर्मचारियों के वेतन आदि भुगतान हेतु वित्तीय वर्ष 2017-18 के लिए वित्तीय अनुदान (GRANT) जारी, जनपदवार विवरण देखें

May 09, 2017













बेसिक शिक्षा परिषद के शिक्षकों और शिक्षणेत्तर कर्मचारियों के वेतन आदि भुगतान हेतु वित्तीय वर्ष 2017-18 के लिए वित्तीय अनुदान (GRANT) जारी, जनपदवार विवरण देखें
🎯समय पर ग्रांट न जारी होने से अप्रैल माह के भुगतान की प्रक्रिया लंबित थी। इससे वह शिक्षक खासे परेशान थे, जिन्हें मार्च व् अप्रैल माह में अंतर्जनपदीय तबादले के बाद नियुक्ति मिली है।इससे अंतर्जनपदीय  तबादले वाले शिक्षक आचार संहिता का दंश झेल रहे थे और अब ग्रांट के फेर में वेतन रुका हुआ था।
बेसिक शिक्षा परिषद के प्राथमिक एवं जूनियर विद्यालयों के करीब पांच लाख शिक्षकों को अप्रैल माह का वेतन अभी नहीं मिल सका था। इसकी वजह नया वित्तीय वर्ष शुरू होने के कारण तमाम औपचारिकताएं पूरी करने में लगातार देरी हुई। शिक्षा विभाग में इधर के वर्षो में वेतन भुगतान समय पर हो इस पर विशेष जोर दिया जा रहा है। वेतन बिल एवं अन्य कार्य की समयसारिणी तय है। सेवानिवृत्त शिक्षकों को तो हर महीने एक से तीन तारीख के बीच ही भुगतान मिल जाता है, वहीं कार्यरत शिक्षकों को भी पहले सप्ताह में भुगतान दिए जाने के निर्देश हैं, लेकिन मार्च में वित्तीय वर्ष पूरा होने और फिर अप्रैल में नया वित्तीय वर्ष शुरू हुआ तो लेकिन वित्त नियंत्रक के यहां से ग्रांट जारी नहीं हो सकी थी।
इस देरी में सबसे अधिक परेशानी अंतर्जनपदीय तबादले वाले शिक्षकों हुई है।, उन्हें करीब 4 महीने से वेतन का इंतजार था। दरअसल तबादले के बाद जिलों में कार्यभार तो ग्रहण करा लिया गया था लेकिन पदस्थापन (स्कूल आवंटन) होने में काफी समय लग गया है।


Share this

Related Posts

Previous
Next Post »