��हलचल एक नाम विश्वास का ��शिक्षा विभाग की समस्त खबरें एवं आदेश सबसे तेज एवं सबसे विश्वसनीय सिर्फ हलचल पर - सौरभ त्रिवेदी

Breaking

Latest Update

बीटीसी 2014 चतुर्थ सेमेस्टर परीक्षा परिणाम डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें, BTC 2014 4rth SEMESTER EXAM RESULT DECLARED, CLICK HERE TO DOWNLOAD

पार्ट - 1रिजल्ट ( PART -1 RESULT )    परीक्षा परिणाम डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें  ( पार्ट - 1 )     पार्ट 2 डाउनलोड करने के लिए...

Friday, 5 May 2017

FAIZABAD: शिक्षकों को रास नही आ रही नई पेंशन योजना,पुरानी पेंशन बहाली के लिए हस्ताक्षर अभियान जारी,प्रधानमंत्री,श्रम मंत्री,मुख्यमंत्री को भेजा जाएगा प्रपत्र

1 अप्रैल 2005 के बाद नियुक्त शिक्षकों कर्मचारियों को नई पेंशन योजना से आच्छादित किया गया है।जनपद फैज़ाबाद में बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत संचालित सरकारी विद्यालयों में कार्यरत 85% से अधिक शिक्षक नई पेंशन योजना के अंतर्गत आते हैं। सरकार द्वारा लागू इस योजना में अभी तक शिक्षकों को PRAN नंबर ही नही अलॉट हो पाया है। शासन द्वारा कई बार इसके संबंध में बेसिक शिक्षा अधिकारी एवं वित्त अधिकारी को निर्देशित किया जा चुका है लेकिन कोई प्रभावी कार्यवाही नही हो सकी।सरकार द्वारा नई पेंशन योजना को शिक्षकों के हित मे बताया जाता रहा है लेकिन शिक्षकों का कहना है नई पेंशन योजना उनके बुढ़ापे के लिए सही नही है।उनके द्वारा इस योजना में कई खामियां बताई गई हैं।नई पेंशन योजना के तहत आने वाले, मिल्कीपुर ब्लॉक में कार्यरत शिक्षक विनोद वर्मा बताते हैं कि NPS के बहाने सरकार अंशदान से एकत्रित फण्ड को सीधे शेयर बाजार में अपनी लगायेगी जबकि फण्ड पर निश्चित वापसी का उत्तरदायित्व न तो सरकार का होगा न ही NPS ट्रस्ट(PFRDA) का। जबकि पुरानी पेंशन मे शिक्षक को एक निश्चित पेंशन लाभ देने का उत्तरदायित्व सरकार का होता है।ऐसी स्थिति में नई पेंशन योजना कैसे शिक्षकों के हित मे हो सकती है यह सोचने वाली बात है।

NPS का विरोध करते हुए शिक्षक अभिषेक यादव बताते हैं  कि यह योजना लागू कर सरकार अपने जवाबदेही से बचना चाहती है क्योंकि इस योजना में किसी प्रकार की गड़बड़ी होने पर उसके जिम्मेदार बीमा कंपनी होगी न कि सरकार।कुछ ऐसा ही अमानीगंज ब्लॉक के शिक्षक अलकेश पाण्डेय भी कहते हैं।उनके अनुसार पुरानी पेंशन योजना में हमारे द्वारा जमा किये अंशदान का जररूत पड़ने पर हम अपने हिसाब से आसानी से प्रयोग कर सकते हैं जबकि नई पेंशन योजना में इतने नियम एवम शर्तें हैं कि अपना ही अंशदान निकालने के लिए बहुत मशक्कत करनी पड़ेगी।रुदौली के शिक्षक अमित यादव ने कहा कि नई पेंशन योजना में वेतन आयोग का लाभ नही मिलता साथ ही सेवानिवृत्त होने और हमारे ही जमा की गई धनराशि पर टैक्स भी देय होगा जबकि पुरानी पेंशन योजना में यह सभी लाभ उपलब्ध हैं।
नई पेंशन योजना में इन तमाम खामियों की वजह से शिक्षकों द्वारा विरोध किया जा रहा है।जनपद फैज़ाबाद में अटेवा के बैनर तले  शिक्षक पुरानी पेंशन बहाली के लिए आंदोलन  में शामिल हो रहे हैं।अटेवा फैज़ाबाद के संदीप यादव जनपद में पुरानी पेंशन बहाली के लिए हस्ताक्षर अभियान  को तेजी से चलाने में लगे हुए।कई ब्लॉकों में यह अभियान बहुत तेजी से चल रहा है।

Adbox