��हलचल एक नाम विश्वास का ��शिक्षा विभाग की समस्त खबरें एवं आदेश सबसे तेज एवं सबसे विश्वसनीय सिर्फ हलचल पर - सौरभ त्रिवेदी

Breaking

Friday, 23 June 2017

ALLAHABAD:सेवानिवृत्ति के चार माह पहले शैल का छिना पद 🎯यूपी बोर्ड की पूर्व सचिव शैल यादव इलाहाबाद सहित क्षेत्रीय कार्यालयों में भी बदलाव। 🎯रामचेत बने उप शिक्षा निदेशक माध्यमिक

सेवानिवृत्ति के चार माह पहले शैल का छिना पद
🎯यूपी बोर्ड की पूर्व सचिव शैल यादव इलाहाबाद सहित क्षेत्रीय कार्यालयों में भी बदलाव।
🎯रामचेत बने उप शिक्षा निदेशक माध्यमिक

राज्य ब्यूरो, इलाहाबाद : माध्यमिक शिक्षा परिषद यानी यूपी बोर्ड में बड़ा बदलाव हुआ है। बोर्ड सचिव के अहम पद पर नीना श्रीवास्तव की तैनाती हुई है, वह अब तक शिक्षा निदेशालय बेसिक उप्र लखनऊ में अपर शिक्षा निदेशक मध्यान्ह भोजन प्राधिकरण के पद पर नियुक्त थीं। वहीं निवर्तमान सचिव शैल यादव को शिक्षा निदेशालय इलाहाबाद में अपर शिक्षा निदेशक महिला के पद पर भेजा गया है।यूपी बोर्ड के सचिव पद पर शैल यादव की तैनाती 11 अगस्त 2015 को हुई थी। वह बोर्ड सचिव के रूप में एक साल 10 माह 11 दिन तक कार्यरत रहीं। वह 31 अक्टूबर 2017 को सेवानिवृत्त हो रही हैं। कार्यकाल पूरा होने के चार माह पहले उन्हें पद से हटना पड़ा है। उनके कार्यकाल में यूपी बोर्ड में तमाम नए प्रयोग भी हुए। इसमें नकल रोकने के लिए 31 जिलों की उत्तर पुस्तिकाओं की कोडिंग, ऑनलाइन प्रवेशपत्र, प्रवेशपत्रों पर परीक्षा कार्यक्रम, अंक सहप्रमाणपत्र की बार कोडिंग, ऑनलाइन अनुपस्थित परीक्षार्थियों का डाटा मंगाना, ऑनलाइन परीक्षा केंद्र बनाने का प्रोजेक्ट तैयार करना रहा है। इसके अलावा पिछले साल परीक्षा व पंजीकरण शुल्क में बढ़ोतरी भी हुई। वहीं, योग को पाठ्यक्रम में शामिल करना, हाईस्कूल की परीक्षा में बैठने की उम्र का निर्धारण, नई पुस्तकों की प्रकाशन नीति और गोरखपुर में नया क्षेत्रीय कार्यालय खोलने पर मुहर आदि निर्णय अहम रहे हैं। वहीं, यूपी बोर्ड 2017 के हाईस्कूल व इंटर के रिजल्ट के बाद चंद्रशेखर आजाद इंटर कालेज पूरबनारा का परिणाम न जारी करने पर पिछले दिनों उनकी किरकिरी भी हुई। 1बोर्ड की नई सचिव नीना श्रीवास्तव ने जून 1992 में बांदा जिले में जिला अनौपचारिक शिक्षा अधिकारी के रूप में सेवा शुरू की थी। वह अगस्त 1995 तक इसी पद पर रहीं। शिक्षा निदेशालय इलाहाबाद में वह 17 वर्षो तक कार्यरत थीं। इसके अलावा कई अहम शैक्षिक संस्थानों में प्राचार्य पद भी संभाला। 13 मार्च 2013 को वह परीक्षा नियामक प्राधिकारी सचिव इलाहाबाद के पद पर तैनात हुईं, उनके पास राज्य विज्ञान संस्थान की भी अतिरिक्त जिम्मेदारी रही। पिछले साल 23 दिसंबर 2016 को वह परीक्षा नियामक पद से हटीं और शिक्षा निदेशालय बेसिक उप्र लखनऊ में तैनात हुईं थी। नई सचिव ने ‘दैनिक जागरण’ से कहा कि यूपी बोर्ड पुरानी संस्था है, जो बेहतरी से काम रही है कार्य को और तेजी से व पारदर्शी तरीके से कराना उनकी प्राथमिकता होगी। प्रयास रहेगा कि यूपी बोर्ड की साख देश भर में और बढ़े। यूपी बोर्ड की पूर्व सचिव शैल यादव इलाहाबाद सहित क्षेत्रीय कार्यालयों में भी बदलाव।इलाहाबाद क्षेत्रीय कार्यालय के अपर सचिव प्रमोद कुमार को भी हटा दिया गया है, उन्हें कौशांबी डायट का प्राचार्य बनाया गया है। क्षेत्रीय कार्यालय के अपर सचिव पद पर प्राचार्य डायट मेरठ योगेंद्र नाथ सिंह की तैनाती हुई है। इसी तरह वाराणसी क्षेत्रीय कार्यालय के अपर सचिव कामता राम पाल को प्राचार्य डायट हरदोई के पद पर भेजा गया है।
🎯राज्य ब्यूरो इलाहाबाद : तबादला किए गए अधिकारियों में ओम प्रकाश मिश्र को जिला विद्यालय निरीक्षक अमेठी (उप निदेशक के पद पर पदोन्नत) से प्राचार्य डायट प्रतापगढ़, रामचेत प्रभारी को मंडलीय संयुक्त शिक्षा निदेशक आजमगढ़ से उप शिक्षा निदेशक (माध्यमिक) शिक्षा निदेशालय इलाहाबाद, मोहम्मद इब्राहीम को जिला विद्यालय निरीक्षक (द्वितीय) वाराणसी (उप निदेशक के पद पर पदोन्नत) से मंडलीय उप शिक्षा निदेशक(माध्यमिक) इलाहाबाद, योगेंद्र नाथ सिंह को प्राचार्य डायट मेरठ से अपर सचिव माध्यमिक शिक्षा परिषद क्षेत्रीय कार्यालय इलाहाबाद, प्रमोद कुमार को अपर सचिव माध्यमिक शिक्षा परिषद क्षेत्रीय कार्यालय इलाहाबाद से प्राचार्य डायट कौशांबी, सत्येंद्र सिंह को अपर सचिव (शोध) माध्यमिक शिक्षा परिषद उप्र इलाहाबाद से जिला विद्यालय निरीक्षक कौशांबी, अशोक कुमार को जिला विद्यालय निरीक्षक कौशांबी से अपर सचिव (शोध) माध्यमिक शिक्षा परिषद उप्र इलाहाबाद भेज गए हैं।


Adbox