लखनऊ : स्कूलों पर कार्रवाई से कतरा रहा शिक्षा विभाग बिना मान्यता के चल रहे स्कूलों के खिलाफ बैकफुट पर शिक्षा विभाग स्कूलों पर कार्रवाई से कतरा रहा शिक्षा विभाग

June 28, 2017
Advertisements

25 अप्रैल को डॉ मुकेश कुमार सिंह ने जिला विद्यालय निरीक्षक पद संभालते ही बिना मान्यता के चल रहे स्कूलों पर हर हाल में रोक लगाए जाने का दम भरा था। उन्होंने इस मिशन को ग्रीष्मावकाश में अंजाम देने की बात कही थी। करीब एक माह बाद शिक्षा विभाग ने फर्जी स्कूलों के खिलाफ कार्रवाई की कार्ययोजना भी बनाई। मगर ग्रीष्मावकाश बीत गया और कार्यवाई शून्य है। स्पष्ट है कि हर बार की तरह इस बार भी इस मसले पर शिक्षा विभाग ने बैकफुट ले लिया है। 1राजधानी में ही दो हजार से ज्यादा फर्जी स्कूल चल रहे हैं। इनके पास मान्यता नहीं है, कई स्कूल दो कमरों में ही आठवीं तक की क्लास लगा रहे हैं। विभाग के पास भी ऐसे स्कूलों का लेखा जोखा नहीं है। 1चल रहे 2000 फर्जी स्कूल1वर्ष 2012 में शिक्षक संघों ने ऐसे स्कूलों को सूचीबद्ध किया तो ऐसे स्कूलों की संख्या पांच सौ के आसपास निकली, शिक्षा विभाग ने करीब 250 स्कूलों के खिलाफ एफआइआर दर्ज कराई थी। अब यह संख्या दो हजार तक पहुंचने का अनुमान लगाया जाता है।जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी व अन्य अधिकारी के साथ ताल-मेल स्थापित किया जा रहा है। सार्थक कार्रवाई के प्रयास किए जा रहे हैं।1डॉ मुकेश कुमार सिंह, जिला विद्यालय निरीक्षक, लखनऊराजधानी में करीब 2000 स्कूल बिना मान्यता के संचालित हो रहे हैं। इस बात की शिक्षा विभाग को भलीभांति जानकारी है। हर बार कार्रवाई के संदर्भ में ऐसे ही दावे किए जाते हैं, मगर होता कुछ नहीं है।1आरपी मिश्र, प्रांतीय संरक्षक, उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ

Advertisements

Share this

Related Posts

Previous
Next Post »

Related Ads