New

डी० एल० एड० ( पूर्व प्रचलित नाम बी० टी० सी० ) प्रशिक्षण- 2016 के लिये ऑनलाइन आवेदन प्रारम्भ, समस्त नियम शर्ते अर्हता आदि को पढ़ते समझते हुए यहां से आवेदन करें

डी० एल० एड० ( पूर्व प्रचलित नाम बी० टी० सी० ) प्रशिक्षण- 2016 परीक्षा नियामक प्राधिकारी, इलाहाबाद, उत्तर प्रदेश STEP 1 आवेदन पत्र भर...

Tuesday, 18 July 2017

स्कूलों की प्रार्थना में शामिल हुआ डेंगू और मलेरिया

स्कूलों की प्रार्थना में शामिल हुआ डेंगू और मलेरिया

जागरण संवाददाता, इलाहाबाद : मच्छरों के डंक से होने वाले डेंगू व मलेरिया जैसी बीमारियों से लोग ग्रसित न हों, उसके लिए स्वास्थ्य विभाग अनोखी पहल कर रहा है। वह है बच्चों को जागरूक करने की। बच्चे मच्छरों से कैसे बचें उसकी जानकारी देकर उन्हें अभिभावकों को जागरूक करने को प्रेरित किया जाएगा। इसकी जानकारी उन्हें प्रतिदिन प्रार्थना के समय दी जाएगी। प्रार्थना खत्म होने के बाद बच्चों को मच्छरों के काटने से होने वाले रोग डेंगू व मलेरिया की भयावह स्थिति की जानकारी देते हुए उससे बचने का उपाय बताया जाएगा। इसको लेकर मुख्य चिकित्साधिकारी ने जिला विद्यालय निरीक्षक व बेसिक शिक्षाधिकारी को पत्र भेजकर प्रतिदिन सारी जानकारी देने को कहा है। यह जानकारी यूपी के साथ सीबीएसई व आइसीएससी बोर्ड के 12वीं तक के सारे विद्यालयों में दी जाएगी।

उत्तर प्रदेश संक्रामक रोग निदेशक ने बीते दिनों निर्देश जारी करके सारे सरकारी व निजी स्कूलों में डेंगू व मलेरिया से बचने की जानकारी देने का निर्देश दिया। इसमें डेंगू-मलेरिया बच्चों को सुबह प्रार्थना के समय मच्छर से बचाव की जानकारी की बात कही गई है। डेंगू-मलेरिया से संबंधित केस को रोजाना इंटीग्रेटेड डिजीज सर्विलांस प्रोग्राम की वेबसाइट बनाई गई है, जिसे प्रतिदिन अपडेट किया जाएगा।

मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. आलोक वर्मा का कहना है कि हमने हर विद्यालय में प्रार्थना के दौरान डेंगू मलेरिया से बचाव की जानकारी बच्चों को देने का निर्देश दिया है। यह प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। जहां नहीं है वहां जल्द होगी।

Blog Archive

Blogroll

Recommended Posts × +