��हलचल एक नाम विश्वास का ��शिक्षा विभाग की समस्त खबरें एवं आदेश सबसे तेज एवं सबसे विश्वसनीय सिर्फ हलचल पर - सौरभ त्रिवेदी

Breaking

New

उ0प्र0 शिक्षक पात्रता परीक्षा 2017 में आवेदन हेतु ऑनलाइन प्रक्रिया प्रारम्भ, आप यहाँ से सुगमता से सभी दिशा निर्देश पढ़ते हुए आवेदन करें, UPTET 2017 ONLINE PROCESS SYSTEM NOW AVAILABLE, CLICK HERE TO FILL FORM

आवेदन पत्र भरने हेतु महत्त्वपूर्ण दिशा निर्देश ऑनलाइन आवेदन करने से पूर्व दिशा निर्देश ध्यान पूर्वक पढ़ लें एवं आव...

Tuesday, 4 July 2017

स्वच्छ भारत की संभावनाएं व चुनौतियां खोजेंगे शिक्षार्थी इस वर्ष हर जिले में 25 जुलाई को जिला स्तरीय, 10 अगस्त को मंडल स्तरीय और राज्य विज्ञान संस्थान के सभागार में 26 अगस्त को राज्य स्तरीय विज्ञान संगोष्ठी का आयोजन प्रस्तावित

स्वच्छ भारत की संभावनाएं व चुनौतियां खोजेंगे शिक्षार्थी

इस वर्ष हर जिले में 25 जुलाई को जिला स्तरीय, 10 अगस्त को मंडल स्तरीय और राज्य विज्ञान संस्थान के सभागार में 26 अगस्त को राज्य स्तरीय विज्ञान संगोष्ठी का आयोजन प्रस्तावित

इलाहाबाद : देशभर में स्वच्छ भारत अभियान की बयार चल पड़ी है। ऐसे में इस बार कक्षा आठ से दस तक के शिक्षार्थी स्वच्छ भारत की संभावनाएं व चुनौतियां खोजेंगे। राज्य विज्ञान संस्थान इलाहाबाद की ओर से राज्य विज्ञान संगोष्ठी का आयोजन इस वर्ष भी किया जा रहा है। यह कार्य छात्र-छात्रओं में अभिव्यक्ति की क्षमता
बढ़ाने, उनमें वैज्ञानिक चिंतन व अनुसंधान की प्रवृत्ति जागृत करने के लिए किया जाता है। इस बार की संगोष्ठी ‘स्वच्छ भारत : विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी-संभावनाएं एवं चुनौतियां’ विषय पर आधारित होगी। प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले प्रतिभागी को बिरला इंडस्टियल एंड टेक्नोलॉजिकल म्यूजियम, कोलकाता में नवंबर में होने वाली राष्ट्रीय विज्ञान संगोष्ठी में प्रतिभाग करने का मौका मिलेगा।

राज्य विज्ञान शिक्षा संस्थान उप्र इलाहाबाद की निदेशक डा. सुत्ता सिंह ने बताया कि यह संगोष्ठी राष्ट्रीय विज्ञान केंद्र नई दिल्ली के निर्देशन में जिला, मंडल और राज्य स्तर पर अलग-अलग तारीखों में आयोजित की जाती है, जिसमें प्रदेश के कक्षा आठ से दस तक के शिक्षार्थी पूर्व निर्धारित विषय पर अपना संभाषण प्रस्तुत करते हैं। निर्धारित चयन प्रक्रिया में जिला स्तर से प्रथम और द्वितीय स्थान प्राप्त बच्चे मंडल स्तर पर तथा मंडल स्तर पर प्रथम व द्वितीय स्थान प्राप्त बच्चे राज्य स्तर पर प्रतिभाग करते हैं।

इस वर्ष हर जिले में 25 जुलाई को जिला स्तरीय, 10 अगस्त को मंडल स्तरीय और राज्य विज्ञान संस्थान के सभागार में 26 अगस्त को राज्य स्तरीय विज्ञान संगोष्ठी का आयोजन प्रस्तावित है। निदेशक ने बताया कि विभिन्न मंडलों से आए हुए प्रतिभागी निर्धारित विषय पर अपना संभाषण प्रस्तुत करेंगे। प्रतिभागियों का मूल्यांकन तीन निर्णायक सदस्यों की समिति करेगी। विजेता बच्चों को पुरस्कृत किया जाएगा। राज्य स्तरीय विज्ञान संगोष्ठी में प्रथम स्थान प्राप्त छात्र को नवंबर में होने वाली राष्ट्रीय विज्ञान संगोष्ठी में प्रतिभाग करने के लिए नामित किया जाएगा। विज्ञान संगोष्ठी का विवरण परीक्षा नियामक प्राधिकारी, उत्तर प्रदेश इलाहाबाद की वेबसाइट  पर प्राप्त किया जा सकता है।

Adbox