लखनऊ:अब धरना देकर मांगेंगे शिक्षा का अधिकार 🎯आरटीई के तहत जिन बच्चों को स्कूलों में दाखिला नहीं मिल रहा है उनके अभिभावक अब 14 को जीपीओ पर प्रदर्शन। 🎯इसके बाद भी बात नहीं सुनी गई तो 15 अगस्त के बाद कोर्ट का दरवाजा खटखटाएंगे। 

August 13, 2017
Advertisements

अब धरना देकर मांगेंगे शिक्षा का अधिकार
🎯आरटीई के तहत जिन बच्चों को स्कूलों में दाखिला नहीं मिल रहा है उनके अभिभावक अब 14 को जीपीओ पर प्रदर्शन।
🎯इसके बाद भी बात नहीं सुनी गई तो 15 अगस्त के बाद कोर्ट का दरवाजा खटखटाएंगे। 

एनबीटी, लखनऊ : आरटीई के तहत जिन बच्चों को स्कूलों में दाखिला नहीं मिल रहा है उनके अभिभावक अब धरना देकर अपना हक मांगेंगे। एडमिशन से वंचित छात्रों के अभिभावकों 14 अगस्त को जीपीओ पर धरना देंगे। इसके बाद भी बात नहीं सुनी गई तो 15 अगस्त के बाद कोर्ट का दरवाजा खटखटाएंगे। 
अभिभावक संघ की ओर से शनिवार को गांधी भवन में आरटीई के तहत जिन बच्चों को दाखिला नहीं मिल रहा है उनके अभिभावकों के साथ बैठक रखी गई थी। इस दौरान अभिभावक संघ के अध्यक्ष रवींद्र, बदलाव संस्था के अध्यक्ष शरद पटेल, नींव संस्था के अध्यक्ष व सोशलिस्ट पार्टी के उपाध्यक्ष संदीप पाण्डेय के अलावा कई लोग मौजूद रहे। आरटीई के तहत सरिता अवस्थी की बेटी कृतिका अवस्थी को सीएमएस राजेंद्रनगर शाखा में कक्षा 1 में दाखिला दिया जाना था, लेकिन अभी तक नहीं मिला है। सरिता ने बताया कि स्कूल वालों ने सबसे पहले पूछा कि आपके पास स्मार्ट फोन है…। घर बाइक है। फार्म अंग्रेजी में भर लोगी। अगर यह सब नहीं कर पाओगी तो आपके बच्चे को एडमिशन नहीं मिल सकता। सरिता ने बताया कि काफी मशक्कत के बाद मोहल्ले के एक युवक ने एडमिशन फार्म तो भर दिया लेकिन अब स्कूल वाले बोलते हैं कि कहीं और एडमिशन करवा लो। 
📚15 अगस्त के बाद अभिभावक संघ जाएगा कोर्ट
अपने 6 वर्ष के बेटे आयुष गुप्ता का दाखिला करवाने के लिए भटक रहीं सुधा गुप्ता ने बताया कि मोतीनगर स्थित महाराजा अग्रसेन पब्लिक सकूल में बच्चे का एडमिशन करवाना है। सभी कागजी कार्रवाई पूरी कर ली है। बावजूद इसके स्कूल के लोग कह रहे हैं कि दाखिला नहीं मिलेगा। कई बार गुजारिश की गई तो जवाब मिला कि चले जाओ। चाहे बीएसए से सोर्स लगवा लो या डीएम से एडमिशन नहीं होगा। इसी तरह नवयुग रेडियंस में एडमिशन के लिए भटक रही साढ़े चार साल की बेटी श्रेष्ठा निषाद की मां सोनी ने बताया कि एक महीना दौड़ाने के बाद अब बच्ची को दाखिला नहीं मिला रहा है। स्कूल वाले कह रहे हैं कि बीएसए से कहो कि बच्चों के लिए अलग से सुविधाओं का इंतजाम करें तब जाकर एडमिशन मिलेगा।


Advertisements

Share this

Related Posts

Previous
Next Post »

Related Ads