इलाहाबाद:डीएलएड 2017 के लिए सात लाख 19 हजार दावेदार 🎯यह प्रक्रिया पूरी होने के बाद 28 अगस्त से कालेज आवंटन का विकल्प अभ्यर्थियों को देना होगा। इस बार काउंसिलिंग ऑनलाइन कराने का निर्णय पहले ही हो चुका है।

August 17, 2017

डीएलएड 2017 के लिए सात लाख 19 हजार दावेदार
🎯यह प्रक्रिया पूरी होने के बाद 28 अगस्त से कालेज आवंटन का विकल्प अभ्यर्थियों को देना होगा। इस बार काउंसिलिंग ऑनलाइन कराने का निर्णय पहले ही हो चुका है।

राज्य ब्यूरो, इलाहाबाद : डीएलएड (पूर्व बीटीसी) 2017 के लिए बुधवार को ऑनलाइन आवेदन करने का कार्य पूरा हो गया है। तय समय में एक लाख 81 हजार 527 अभ्यर्थियों ने पंजीकरण कराया, उनमें से एक लाख 48 हजार 812 अभ्यर्थियों ने शुल्क के साथ आवेदन पूरा किया है। इसी के साथ कुल आवेदकों की संख्या बढ़कर सात लाख 19 हजार 429 हो गई है। अब अभ्यर्थी 18 से 21 अगस्त के बीच ऑनलाइन आवेदन में संशोधन कर सकेंगे। 1परीक्षा नियामक प्राधिकारी सचिव डा. सुत्ता सिंह ने एक जुलाई 2017 को 18 वर्ष की आयु सीमा पूरी करने वाले और एक जुलाई 2016 को अधिकतम 35 वर्ष पूरा करने वाले अभ्यर्थी दावेदारी करने का मौका दिया था। असल में, शासन डीएलएड सत्र 2016 को शून्य घोषित कर चुका है। यह कदम शिक्षक बनने के प्रशिक्षण कार्यक्रम को नियमित करने के तहत उठाया गया था। ऐसे में शासन ने बीते 28 जुलाई को संशोधित आदेश जारी किया। इसमें कहा गया है कि बीते पांच जुलाई को जारी विज्ञप्ति के क्रम में जिन अभ्यर्थियों ने डीएलएड 2016 के लिए ऑनलाइन आवेदन किया है उनके आवेदन 2017 सत्र के लिए मान्य होंगे। उन्हें दोबारा आवेदन करने की जरूरत नहीं है। दो अगस्त से केवल वही अभ्यर्थी नए सिरे से ऑनलाइन आवेदन करें जिनकी उम्र एक जुलाई 2017 को 18 वर्ष पूरा हुई है। ऑनलाइन पंजीकरण दो अगस्त दोपहर बाद से शुरू हुआ और बुधवार शाम छह बजे ऑनलाइन आवेदन का कार्य पूरा हो गया। इसमें एक लाख 81 हजार 527 अभ्यर्थियों ने पंजीकरण कराया था। आवेदन शुल्क जमाकर ऑनलाइन आवेदन बुधवार शाम छह बजे पूरा हुआ। इसमें एक लाख 48 हजार 812 अभ्यर्थियों ने आवेदन किए हैं। वहीं, सत्र 2016 के लिए पांच लाख 70 हजार 617 अभ्यर्थियों ने आवेदन किया था। इस प्रकार कुल आवेदकों की संख्या सात लाख 19 हजार 429 हो गई है। परीक्षा नियामक प्राधिकारी सचिव ने बताया कि ऑनलाइन आवेदन में नियमानुसार 2016 सत्र के लिए 58 हजार 518 अभ्यर्थियों ने ऑनलाइन आवेदन में संशोधन किया था। यह प्रक्रिया पूरी होने के बाद 28 अगस्त से कालेज आवंटन का विकल्प अभ्यर्थियों को देना होगा। इस बार काउंसिलिंग ऑनलाइन कराने का निर्णय पहले ही हो चुका है।


Share this

Related Posts

Previous
Next Post »