उन्नाव: उत्तर प्रादेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ की प्रान्तीय कार्यसमिति के आह्वान पर धरने में शिक्षकों का उमड़ा हुजूम 📢प्रदेश की भाजपा सरकार शिक्षा को मजाक बना रखा है-बृजेश कुमार पाण्डेय, जिला अध्यक्ष 📢सरकार शिक्षकों की समस्याओं पर  अतिशीघ्र गंभीरता पूर्वक विचार करे यदि हीला हवाली किया तो गंभीर परिणाम भुगतने होंगे-बृजेश कुमार पाण्डेय, जिला अध्यक्ष 📢मुख्यमंत्री को संबोधित सोलह सूत्रीय ज्ञापन डीएम को सौंपा

August 23, 2017
Advertisements




























उत्तर प्रादेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ की प्रान्तीय कार्यसमिति के आह्वान पर धरने में शिक्षकों का उमड़ा हुजूम
📢प्रदेश की भाजपा सरकार शिक्षा को मजाक बना रखा है-बृजेश कुमार पाण्डेय, जिला अध्यक्ष
📢सरकार शिक्षकों की समस्याओं पर  अतिशीघ्र गंभीरता पूर्वक विचार करे यदि हीला हवाली किया तो गंभीर परिणाम भुगतने होंगे-बृजेश कुमार पाण्डेय, जिला अध्यक्ष
📢मुख्यमंत्री को संबोधित सोलह सूत्रीय ज्ञापन डीएम को सौंपा

उन्नाव। प्राथमिक शिक्षक संघ की प्रान्तीय कार्यसमिति के आह्वान पर बुद्धवार को भी प्राथमिक शिक्षक संघ के तत्वाधान में भारी संख्या में शिक्षकों का हुजूम अपनी मांगो को लेकर बीएसए कार्यालय पर धरना देकर प्रदर्शन भी किया।
    प्राथमिक शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष बृजेश कुमार पाण्डेय ने कहा कि प्रदेश की भाजपा सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि जबसे भाजपा की सरकार प्रदेश में बनी शिक्षा को मजाक बना बना के रखा दिया है व मुख्यमंत्री बेसिक शिक्षा एवम् बेसिंक शिक्षकों संग खिलवाड़ में उतारू है। बदलते परिवेश में शिक्षा का स्तर दिन प्रतिदिन गिरता रहा है जिसमें व्यापक पैमाने पर परिवर्तन की आवश्यकता है।घमण्ड में चूर भाजपा सरकार शिक्षकों के केवल साथ कुठाराघात करने में जुटी है।जिलाध्यक्ष श्री बृजेश कुमार पाण्डेय ने ही अपने सम्बोधन में कहा कि देश के सबसे बड़े राज्य के मुख्यमन्त्री जी हम सभी शिक्षक साथी प्रदेश के विकास में आपके साथ हैं। किन्तु खेद है की हम शिक्षकों को अपना कार्य करने नहीं दिया जा रहा है और गैर शैक्षणिक कार्यों में लगाकर हैरान और परेशान करने के मानसिक शोषण भी किया जा रहा है।जिससे शिक्षकों को गैर शैक्षणिक कार्यों से कार्यमुक्त रखा जाए।माननीय मुख्यमन्त्री जी से विशेष अपील की मध्यान्ह भोजन स्वयं सेवी संस्थाओं से बनवाया जाए।स्कूलों में मूलभूत सुविधाओं जैसे बिजली,पानी, शौचालय, पुस्तकालय, समय से पुस्तकें समेत सभी जरूरी सुविधाओं को ससमय मुहैया कराया जाए। जिससे शिक्षक पूरे मनोयोग से कार्य करें।इसके लिए शिक्षकों की बुढापे की लाठी पुरानी पेंशन, वेतन विसंगति से शिक्षकों में भारी असन्तोष जैसे 17140,18150 आदि अनेकों विसंगतियाँ व्याप्त है, मृतक शिक्षक के पाल्य को शिक्षक ही बनाया जाए आदि माँगे तत्काल मुहैया करायी जानी चाहिए।राज्य कर्मचारियों की भाँति प्रदेश के परिषदीय शिक्षकों को भी कैशलेश चिकित्सा सुविधा उपलब्ध करायी जानी चाहिए।जिलाध्यक्ष श्री पाण्डेय ने यह भी कहा कि सरकार शिक्षकों की समस्याओं पर गंभीरता पूर्वक विचार करते हुए मांगो को पूरा करने में हीला हवाली किया तो सरकार को गंभीर परिणाम भुगतने होंगे।
         युवा शिक्षक नेता देश दीपक पाण्डेय ने अपने सम्बोधन में कहा कि यह बहुत ही दुःखद है कि शिक्षकों को अपनी  जायज मांगो के लिए सड़कों पर उतारना पड़ता है।सरकार यदि शिक्षा के प्रति गंभीर होती तो धरना या प्रदर्शन की नौबत ही न आती।आज हमें अपनी मांगो के लिए सड़क पर उतारना पड़ रहा है सरकार को डूब मरना चाहिए। प्राथमिक शिक्षक संघ के सक्रिय कार्यकर्ता विवेक कुमार द्विवेदी ने धरने को संबोधित करते हुए कहा कि अप्रैल 2005 के पश्चात नियुक्त शिक्षकों को पुरानी पेंशन का लाभ सरकार न देकर शिक्षकों के साथ कुठाराघात कर रही है। संघ के मंत्री गजेन्द्र वर्मा ने कहा कि पुरानी पेंशन की बहाली सरकार नहीं करती है तो संघर्ष व्यापक पैमाने पर छेड़ा जाएगा।उन्होंने कहा कि सरकार हमारे शिक्षक को बंधुआ मजदूर बना कर रखा है जब देखो जहाँ दौड़ा देती है।सरकार स्वयं शिक्षा को मजाक बना रखा है और व्यवसायीकरण में जुटी हुई है।
   धरने को प्राथमिक शिक्षक संघ ब्लॉक बिछिया के अध्यक्ष वेद नारायण मिश्रा व सुमेरपुर ब्लॉक के अध्यक्ष प्रेमशंकर चौधरी, असोहा ब्लॉक अध्यक्ष सन्दीप कुमार द्विवेदी, ब्लॉक सिकन्दरपुर कर्ण के जुझारू संघर्ष शील शिक्षक नेता विवेक कुमार द्विवेदी, शिक्षिकाओं में पूनम समेत अन्य शिक्षिकाएँ, जूनियर शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष राघवेंद्र सिंह, विनोद तिवारी अध्यक्ष नवाब गंज, विकास सिंह अध्यक्ष हिलौली, दिलीप बाजपेयी अध्यक्ष‎ सरोसी, राम सिंह‎ कनौजिया, अजय कटियार, राघवेन्द्र सिंह, मदन गोपाल, सूर्यकांत यादव, रमेश चंद, विकास सिंह, सत्य प्रकार द्विवेदी, अनुपम मिश्र, निवेदिता सचान, पुष्पा सोनी, दिलीप आदि सभी ने संबोधित करते हुए कहा कि सरकार ने हमारी सोलह सूत्रीय मांगो में हील हवाली किया तो शिक्षक सड़क पर उतरने को मजबूर होंगे।
     प्राथमिक शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष बृजेश कुमार पाण्डेय के नेतृत्व में हजारों शिक्षकों का हुजूम नारों के साथ कचेहरी स्थित डीएम ऑफिस पहुँच कर मुख्यमंत्री को संबोधित सोलह सूत्रीय ज्ञापन जिलाधिकारी महोदया अदिति सिंह को सौंपा।


Advertisements

Share this

Related Posts

Previous
Next Post »

Related Ads