रायबरेली:मनमानी-अवकाश था नहीं स्कूल को कर दिया बंद, बीएसए ने की सख्त कार्यवाही 🎯स्कूल में प्रधानाध्यापिका समेत तीन शिक्षक हैं जो बिना सूचना के अवकाश पर थे। 🎯लापरवाही पर बीएसए संजय शुक्ल ने प्रधानाध्यापिका, सहायक अध्यापक व शिक्षा मित्र का वेतन रोकते हुए स्पष्टीकारण देने का निर्देश दिया है।

September 22, 2017

मनमानी-अवकाश था नहीं स्कूल  को कर दिया बंद, बीएसए ने की सख्त कार्यवाही
🎯स्कूल में प्रधानाध्यापिका समेत तीन शिक्षक हैं जो बिना सूचना के अवकाश पर थे।
🎯लापरवाही पर बीएसए संजय शुक्ल ने प्रधानाध्यापिका, सहायक अध्यापक व शिक्षा मित्र का वेतन रोकते हुए स्पष्टीकारण देने का निर्देश दिया है।

जागरण संवाददाता, रायबरेली : शिक्षा विभाग का बुरा हाल है। शासन से आदेश आया है कि बिना सूचना के शिक्षक स्कूल से गायब नहीं होंगे, जबकि हकीकत ये है कि शिक्षक बिना सूचना के नदारद रहे और स्कूल में ताला लगा रहा। स्वास्थ्य विभाग की टीम जब पहुंची तो मामले की जानकारी होने पर बीएसए को जानकारी दी गयी। इस पर एबीएसए ने टीम भेज कर जांच की।अमावां के पूरे ठकुराइन में गुरुवार सुबह प्राथमिक स्कूल बंद रहा। स्वास्थ्य विभाग की टीम स्कूल में स्वास्थ्य की जांच करने पहुंची तो पता चला कि स्कूल बंद है। स्कूल में प्रधानाध्यापिका समेत तीन शिक्षक हैं जो बिना सूचना के अवकाश पर थे। बीएसए संजय शुक्ल ने एबीएसए वीरेंद्र कनौजिया को जांच करने के लिए भेजा, जिस पर जांच की गयी। बीएसए ने कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।
🎯रोक दिया गया वेतन : इस लापरवाही पर बीएसए संजय शुक्ल ने प्रधानाध्यापिका, सहायक अध्यापक व शिक्षा मित्र का वेतन रोकते हुए स्पष्टीकारण देने का निर्देश दिया है।

Share this

Related Posts

Previous
Next Post »