इलाहाबाद:आक्रोश:परिषदीय स्कूलों की परीक्षाओं पर बहिष्कार का साया। 🎯शिक्षामित्रों ने दी है अर्द्ध वार्षिक परीक्षाओं के बहिष्कार की चेतावनी। 🎯दस हजार रुपये मानदेय का भुगतान न होने से भी नाराजगी।

October 23, 2017

आक्रोश:परिषदीय स्कूलों की परीक्षाओं पर बहिष्कार का साया।
🎯शिक्षामित्रों ने दी है अर्द्ध वार्षिक परीक्षाओं के बहिष्कार की चेतावनी।
🎯दस हजार रुपये मानदेय का भुगतान न होने से भी नाराजगी।

राज्य ब्यूरो, इलाहाबाद1सहायक अध्यापक पद पर समायोजन सुप्रीम कोर्ट से रद होने के बाद मूल पद पर लौटे शिक्षामित्रों की नाराजगी 26 अक्टूबर से शुरू हो रही परिषदीय विद्यालयों की अर्धवार्षिक परीक्षा में दिख सकती है। राज्य सरकार की ओर से तय किया गया दस हजार रुपये मानदेय भी न मिलने के कारण शिक्षामित्रों में नाराजगी है। शिक्षामित्रों ने चेतावनी दी है कि 25 अक्टूबर तक मानदेय का भुगतान न हुआ तो परिषदीय परीक्षा का बहिष्कार कर देंगे।1बेसिक शिक्षा विभाग ने कक्षा एक से आठ तक के परिषदीय स्कूलों में अद्र्घवार्षिक परीक्षा की समय सारिणी पिछले दिनों जारी कर दी है। दो पालियों में परीक्षा 26 अक्टूबर से शुरू होकर 31 अक्टूबर 2017 तक होनी है। इसमें कक्षा एक के छात्र छात्रओं की केवल मौखिक परीक्षा होगी तथा छह, सात व आठवीं कक्षा की केवल लिखित परीक्षा होगी। सभी स्कूलों में इसकी जोरशोर से तैयारी भी हो रही है। परीक्षा की शुरुआत में तीन दिन ही शेष रह गए हैं और एक लाख 37 हजार शिक्षामित्रों की नाराजगी चरम पर है। उनका कहना है कि सरकार शिक्षामित्रों की उपेक्षा कर रही है। जुलाई महीने से अब तक मानदेय का भुगतान नहीं किया गया है। समायोजन रद होने के बाद राज्य सरकार ने शिक्षामित्रों को दस हजार रुपये मानदेय देने की घोषणा की थी। शिक्षामित्रों को बढ़े हुए मानदेय का भुगतान नहीं हो पाया है। दशहरा और दीपावली का त्योहार शिक्षामित्रों के घर परिवार में सूना-सूना ही रहा। शिक्षामित्रों की इस नाराजगी से परीक्षाओं में व्यवधान उत्पन्न होने की आशंका बढ़ गई है, हालांकि बेसिक शिक्षा विभाग ने भी परीक्षा सकुशल संपन्न कराने को हर आवश्यक कदम उठाने की बात कही है। 1दूरस्थ बीटीसी शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष अनिल कुमार यादव का कहना है कि सरकार शिक्षामित्रों के साथ अन्याय न करे, 25 अक्टूबर तक मानदेय का अब तक का भुगतान हो नहीं तो सभी शिक्षामित्र सामूहिक रूप से परिषदीय स्कूलों में अर्धवार्षिक परीक्षा का बहिष्कार करेंगे।

Share this

Related Posts

Previous
Next Post »