फतेहपुर : धन न मिलने से नहीं हो रहा फल वितरण अप्रैल माह से शासन से नहीं अवमुक्त हुआ धन, बीते माह फल वितरण जारी रहने का हुआ था ऐलान

December 14, 2017
Advertisements

धन न मिलने से नहीं हो रहा फल वितरण

अप्रैल माह से शासन से नहीं अवमुक्त हुआ धन, बीते माह फल वितरण जारी रहने का हुआ था ऐलान

जागरण संवाददाता, फतेहपुर : मध्याह्न भोजन के साथ बच्चों को मौसमी फल वितरित किए जाने के मद में विद्यालयों को फूटी कौड़ी नहीं मिल पाई है। आठ माह से ज्यादा का समय बीत चुका है लेकिन शासन से ग्रांट न आने के चलते असमंजस की स्थिति बनी हुई है। विद्यालयों में जहां बच्चे एमडीएम चख रहे हैं वहीं फल वितरित न होने से अभिभावक जिम्मेदारों पर शंका करने लगे हैं। 1बेसिक, माध्यमिक तथा मदरसों में कक्षा 8 तक के बच्चों को मध्याह्न भोजन शासन के निर्देश पर दिया जाता है। एमडीएम बनाने के लिए स्कूलों में रसोइयां तैनात की गईं हैं तो दूध और फल वितरण के लिए प्रधानाध्यापक को जिम्मेदार बनाया गया है। शासन से मिलने वाले धन से वह खरीदारी करके फल और दूध वितरण कराते आए हैं। अप्रैल से दिसंबर माह तक फल वितरण की धनराशि न आने से शिक्षक-शिक्षिकाएं खासी नाराज हैं। कार्यवाही से बचते हुए वह फल वितरण से चुपचाप दूरी बनाए हुए हैं। बीते माह नवंबर में इस असमंजस स्थिति को दूर करते हुए शासन ने ऐलान कर दिया था कि फल वितरण के लिए धन दिया जाएगा। इसलिए फल वितरण को जारी रखा जाए। बीएसए शिवेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि फल वितरण में मिलने वाली ग्रांट को लेकर शासन में पैरवी की जा रही है। धन आते ही संबंधित स्कूलों के खातों में धन भेजा जाएगा। तब तक सभी खंड शिक्षाधिकारियों को निर्देशित किया गया है कि वह फल वितरण योजना को क्रियान्वित रखें।अंबेडकर शिक्षा सदन स्कूल में एमडीएम खाते बच्चे’ 

Advertisements

Share this

Related Posts

Previous
Next Post »

Related Ads