इलाहाबाद: बोर्ड परीक्षा में फिर मोबाइल एप की तैयारी: बोर्ड प्रशासन इम्तिहान के दौरान उपस्थिति पाने को कर रहा मंथन

December 19, 2017
Advertisements

बोर्ड परीक्षा में फिर मोबाइल एप की तैयारी: बोर्ड प्रशासन इम्तिहान के दौरान उपस्थिति पाने को कर रहा मंथन

राज्य ब्यूरो इलाहाबाद। परीक्षा में फिर मोबाइल एप लाने की तैयारी है। दरअसल, बोर्ड प्रशासन इम्तिहान के दौरान ही परीक्षार्थियों की उपस्थिति चाहता है। अब ऐसा एप लाने पर विचार हो रहा है, जो कारगर रहे। बोर्ड ने 50 जिलों में बुकलेट नंबर का उपस्थिति पंजिका में अंकन करने पर मुहर लगा दी है। बैठक मंगलवार को भी जारी रहेगी। 1माध्यमिक शिक्षा परिषद यानी की हाईस्कूल व इंटरमीडिएट परीक्षा 2018 में फिर मोबाइल एप लाने की तैयारी है। असल में 2016 की परीक्षा में शासन के निर्देश पर मोबाइल एप का प्रयोग हुआ था लेकिन, वह कारगर नहीं रहा। परीक्षा शुरू होने के कुछ दिन में ही फेल हो गया। उसके बाद से वेबसाइट के जरिए परीक्षार्थियों की उपस्थिति मंगाई जा रही है इसमें समस्या यह है कि परीक्षा होने के बाद संबंधित विद्यालय आंकड़ा भेजते हैं। शासन सीधे निगरानी के लिए तत्काल रिपोर्ट चाहता है। संभव है कि मंगलवार को भी होने वाली बैठक में कोई कारगर रास्ता निकल आए। बोर्ड सचिव नीना श्रीवास्तव, अपर सचिव व क्षेत्रीय कार्यालयों के अपर सचिवों ने सोमवार को तमाम मुद्दों पर चर्चा की है। इसमें पहली बार 50 जिलों में परीक्षार्थी बुकलेट का नंबर भी उपस्थिति पंजिका में खुद दर्ज करने पर मुहर लग गई है। बैठक में अन्य तमाम रास्ते भी खोजे जा रहे हैं, जिन पर अमल करके परीक्षा में नकल रोकी जा सके। कई सुझाव भी आए हैं। उन पर मंगलवार को फिर विस्तार से चर्चा होगी। यह रिपोर्ट तैयार होने के बाद सभापति को भेजी जाएगी।परीक्षा केंद्रों का निर्धारण पूरा1बोर्ड ने सचिव ने बताया प्रदेश में सभी परीक्षा केंद्रों को निर्धारित कर दिया गया है। गाजीपुर व बलिया जिले की सूची भी वेबसाइट पर अपलोड हो गई है। ज्ञात हो कि बोर्ड ने सूबे में 8540 परीक्षा केंद्र बनाने का एलान किया था, माना जा रहा है कि तय केंद्रों की सूची इसी के इर्द-गिर्द है। औपचारिक रूप से संख्या का एलान मंगलवार को किया जाएगा। 1किताबों का टेंडर 22 को1शासन ने नए सत्र में एनसीईआरटी की तर्ज पर तैयार हुए पाठ्यक्रम की पुस्तकें मुहैया कराने की नीति तय कर दी है। अब बोर्ड प्रशासन 22 दिसंबर को टेंडर आदि मांगने की सूचना वेबसाइट पर अपलोड करेगा। इसकी तैयारियां हो पूरी हो गई है। तैयारी है कि मार्च के अंत तक हर हाल में बाजार में नई किताबें उपलब्ध हो जाएं।

Advertisements

Share this

Related Posts

Previous
Next Post »

Related Ads