उन्नाव: 6 जनवरी तक जिले के सभी स्कूलों में शीत कालीन अवकाश केवल छात्र और छात्राओं के लिए है जिसके कारण शिक्षक और शिक्षिकाओं को समय पर स्कूल जाना होगा और विभागीय सम्बन्धी लंबित कार्यों को वह निपटाएंगे। 🎯अवकाश पाकर ठिठुरतीं छात्रओं के चेहरे खिले 🎯जिले परिषदीय स्कूल अब 8 जनवरी को खुलेंगे।

January 04, 2018

6 जनवरी तक जिले के सभी स्कूलों में शीत कालीन अवकाश केवल छात्र और छात्राओं के लिए है जिसके कारण शिक्षक और शिक्षिकाओं को समय पर स्कूल जाना होगा और विभागीय सम्बन्धी लंबित कार्यों को वह निपटाएंगे।
🎯अवकाश पाकर ठिठुरतीं छात्रओं के चेहरे खिले
🎯जिले परिषदीय स्कूल अब 8 जनवरी को खुलेंगे।

उन्नाव: कड़ाके की ठंड में स्कूल बंदी का आदेश शिक्षकों पर लागू नहीं होगा। यहां सिर्फ छात्र व छात्रओं को राहत दी गई है। शिक्षक और शिक्षिकाओं को समय पर स्कूल आना होगा। लंबित कार्यों को वह निपटाएंगे। यदि वह गैरहाजिर हुए तो उनके वेतन में कटौती होगी। साथ ही विभागीय कार्रवाई की जाएगी। बेसिक और माध्यमिक शिक्षा से जुड़े स्कूलों को सात जनवरी तक बंद किया गया है। इस कार्यवाही में स्कूल के स्टाफ को सहूलियत नहीं दी गई है। शिक्षक से लेकर अन्य स्टाफ को स्कूल में हाजिरी लगानी होगी। यदि वह ऐसा नहीं करेंगे तो उन पर कार्रवाई तय होगी। वेतन भी उनके स्कूल आने पर निर्गत किया जाएगा। प्रभारी बीएसए नसरीन फारूकी ने बताया कि स्कूल के बंद किए जाने के आदेश से शिक्षकों को दूर रखा गया है। कड़ाके की ठंड में स्कूलों के अवकाश घोषित किए जाने के फैसले में कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय को भी शामिल किया गया है। ‘जागरण’ में खबर प्रकाशित होने के बाद यह कदम उठे हैं। बुधवार को सात जनवरी तक परिषदीय और माध्यमिक के साथ कस्तूरबा स्कूल में शिक्षण कार्य स्थगित करने के आदेश हुए हैं। समस्त स्कूलों के वार्डन को निर्देशित किया गया है। गौरतलब है कि शीतलहर को देखते हुए प्रशासन ने परिषदीय और माध्यमिक स्कूलों को बंद करने के आदेश किए थे। तीन जनवरी तक स्कूल बंद होने की कार्यवाही में कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय की छात्रओं को सहूलियत नहीं दी गई थी। जबकि, नवोदय विद्यालय भी ठंड में बंद हैं। इस परेशानी को जागरण ने प्रमुखता से उजागर किया था। ‘बा’ की ठिठूरती छात्रओं को आदेश का इंतजार शीर्षक से खबर प्रकाशित होते ही जिलाधिकारी ने कस्तूरबा स्कूलों को भी बंद करने का आदेश जारी कर दिया। स्कूल सात जनवरी तक बंद रहेंगे। प्रभारी बीएसए नसरीन फारूकी ने बताया कि जिले में संचालित 13 कस्तूरबा आवासीय विद्यालयों को शीतलहर में बंद रखने के आदेश हुए हैं। आठ जनवरी को विद्यालय खोले जाएंगे।

Share this

Related Posts

Previous
Next Post »