अंग्रेजी माध्यम से संचालित होंगे 5000 प्राथमिक विद्यालय प्रदेश के हर विकासखंड व नगर क्षेत्र में पांच-पांच परिषदीय प्राथमिक विद्यालयों का चयन शिक्षकों के चयन को होगी परीक्षा :

January 06, 2018
Advertisements

अंग्रेजी माध्यम से संचालित होंगे 5000 प्राथमिक विद्यालय

प्रदेश के हर विकासखंड व नगर क्षेत्र में पांच-पांच परिषदीय प्राथमिक विद्यालयों का चयन

शिक्षकों के चयन को होगी परीक्षा :

राज्य ब्यूरो, इलाहाबाद : बेसिक शिक्षा परिषद के प्राथमिक विद्यालय नए सत्र में कांवेंट स्कूलों से प्रतिस्पर्धा करते दिखेंगे। प्रदेश भर में पांच हजार परिषदीय प्राथमिक विद्यालयों को अंग्रेजी माध्यम से संचालित करने की दिशा में सरकार ने कदम बढ़ा दिए हैं। नया सत्र शुरू होने से पहले स्कूल, शिक्षक व प्रधानाध्यापकों को चयनित करने का आदेश जारी हो गया है। इन स्कूलों में कक्षा एक, दो व तीन में अंग्रेजी माध्यम, चार व पांच में अंग्रेजी और हंिदूी दोनों माध्यमों से पढ़ाई होगी।

प्रदेश के हर विकासखंड व नगर क्षेत्र में पांच-पांच परिषदीय प्राथमिक विद्यालयों का चयन किया जाना है। चयन में छात्र संख्या, विद्यालय में शैक्षिक सुविधाओं को विशेष रूप से ध्यान में रखा जाएगा। परिषद सचिव संजय सिन्हा ने मंडलीय सहायक शिक्षा निदेशक बेसिक व बेसिक शिक्षा अधिकारियों को भेजे निर्देश में कहा है कि इन स्कूलों में शिक्षण कार्य परिषदीय स्कूलों के शिक्षक-शिक्षिकाएं ही करेंगे। उनके चयन के लिए कई नियम लागू किए गए हैं।

शिक्षकों के चयन को होगी परीक्षा :

इन स्कूलों में शिक्षण कार्य के लिए जिले के परिषदीय स्कूलों में कार्यरत इच्छुक शिक्षक-शिक्षिकाओं से आवेदन लिया जाएगा। ग्रामीण क्षेत्र के शिक्षकों को ग्रामीण क्षेत्र में व नगरों में कार्यरत शिक्षक नगरीय स्कूलों में नियुक्त होंगे। वहीं, प्रधानाध्यापकों का चयन प्राथमिक स्कूलों के प्रधानाध्यापक व उच्च प्राथमिक स्कूलों के सहायक अध्यापकों से किया जाएगा। इन पदों पर ऐसे शिक्षकों की तैनाती होगी जिन्होंने इंटरमीडिएट परीक्षा अंग्रेजी विषय से उत्तीर्ण की हो या फिर अंग्रेजी माध्यम से शिक्षा ग्रहण की हो। प्रधानाध्यापक व सहायक अध्यापकों के चयन के लिए लिखित परीक्षा (50 अंक) तथा व्यक्तित्व परीक्षा (50 अंक) का आयोजन होगा, ताकि सही शिक्षकों का चयन हो। इससे शिक्षण दक्षता और अंग्रेजी माध्यम से अभिव्यक्ति का परीक्षण भी होगा। चयनित प्रधानाध्यापक व सहायक अध्यापक को श्रेष्ठता क्रम में सूचीबद्ध किया जाएगा।

चयन के बाद प्रशिक्षण भी मिलेगा :

हर स्कूल में प्रत्येक कक्षा के लिए एक शिक्षक तैनात होगा। चयनित शिक्षकों को डायट स्तर प्रशिक्षण दिया जाएगा। प्रशिक्षण का आयोजन आंग्ल भाषा शिक्षण संस्थान इलाहाबाद व राज्य शिक्षा संस्थान इलाहाबाद की अगुवाई में होगा। यह प्रशिक्षण 15 मार्च तक पूरा कराना है।

शिक्षक चयन को गठित होगी समिति :

हर जिले में प्रधानाध्यापक व शिक्षकों के चयन को प्राचार्य जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान की अध्यक्षता में समिति का गठन होगा। इसमें राजकीय इंटर कालेज अंग्रेजी प्रवक्ता, अंग्रेजी विषय के विशेषज्ञ सदस्य होंगे और बेसिक शिक्षा अधिकारी सदस्य सचिव के रूप में रहेंगे। यही समिति परीक्षा व साक्षात्कार करेगी। चयन जिले की आवश्यकता के अनुरूप होगा। 1साथ ही वांछित संख्या में एक पैनल भी तैयार किया जाएगा, जो भविष्य में आवश्यकता के अनुरूप तैनाती मिलेगी। सचिव ने निर्देश दिया है कि विद्यालय चयन, शिक्षक चयन व उनका प्रशिक्षण हर हाल में 15 मार्च तक पूर्ण करा लिया जाए। साथ ही चयनित विद्यालयों का स्थानीय स्तर पर व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाए। साथ ही नए शैक्षिक सत्र के पहले दिन विद्यालय स्तर पर समारोह आयोजित करके कक्षाओं का प्रारंभ किया जाए।

Advertisements

Share this

Related Posts

Previous
Next Post »

Related Ads