डीएलएड (डिप्लोमा इन एलीमेंट्री एजूकेशन) यानि पूर्व बीटीसी का सत्र नियमित की पहल 15 मार्च को शासनादेश जारी होने के साथ प्रवेश प्रक्रिया शुरू होगी तीन से शुरू होकर 23 अप्रैल तक चलेगा ऑनलाइन पंजीकरण प्रशिक्षण सत्र एक जुलाई से, शासन की सत्र नियमित करने की पहलप्रशिक्षण संस्थानों की संबद्धता की

March 08, 2018

डीएलएड (डिप्लोमा इन एलीमेंट्री एजूकेशन) यानि पूर्व बीटीसी का सत्र नियमित की पहल

15 मार्च को शासनादेश जारी होने के साथ प्रवेश प्रक्रिया शुरू होगी

तीन से शुरू होकर 23 अप्रैल तक चलेगा ऑनलाइन पंजीकरण

प्रशिक्षण सत्र एक जुलाई से, शासन की सत्र नियमित करने की पहलप्रशिक्षण संस्थानों की संबद्धता की

राज्य ब्यूरो, इलाहाबाद : डीएलएड (डिप्लोमा इन एलीमेंट्री एजूकेशन) यानि पूर्व बीटीसी का सत्र नियमित की पहल हुई है। शासन ने सत्र 2018-19 में प्रवेश की कर दी है। 15 मार्च को शासनादेश जारी होने के साथ प्रवेश प्रक्रिया शुरू होगी, जबकि ऑनलाइन पंजीकरण तीन अप्रैल से होगा। प्रशिक्षण सत्र एक जुलाई से शुरू करने के निर्देश दिए गए हैं।1बेसिक शिक्षा सचिव मनीषा त्रिघाटिया ने डीएलएड प्रशिक्षण सत्र 2018-19 के संबंध में कहा है कि प्रवेश के लिए 27 मार्च तक एनआइसी लखनऊ आवेदन के लिए साफ्टवेयर तैयार करेगा, 28 मार्च को परीक्षा नियामक प्राधिकारी सचिव उप्र इलाहाबाद ऑनलाइन आवेदन के लिए विज्ञापन जारी करेंगी। तीन अप्रैल को अपरान्ह से ऑनलाइन पंजीकरण शुरू होंगे। चार अप्रैल से आवेदन शुल्क जमा कर सकेंगे। ऑनलाइन पंजीकरण 23 अप्रैल को सायं छह बजे तक चलेगा। 25 अप्रैल आवेदन शुल्क जमा करने की अंतिम तारीख है। अभ्यर्थी ऑनलाइन आवेदन पूर्ण करके 27 अप्रैल को सायं छह बजे तक प्रिंट आउट निकाल सकेंगे। अभ्यर्थियों को ऑनलाइन आवेदन में त्रुटि संशोधन करने का एक से चार मई शाम छह बजे तक का मौका मिलेगा।1प्रदेश भर के राजकीय व निजी संस्थानों को आवंटित सीटों के सापेक्ष चयन के लिए अभ्यर्थी 15 से 28 मई तक संस्थान का विकल्प दे सकेंगे। अभ्यर्थियों की ओर से दिए गए विकल्प के अनुसार एनआइसी लखनऊ 30 मई को संस्थान आवंटित करेगा। आवंटित संस्थान में अभ्यर्थियों की अभिलेखीय जांच व प्रवेश कार्यवाही आठ जून तक पूरी होगी। प्रवेश पाने वाले अभ्यर्थियों की सूचना संबंधित संस्थान उसी दिन वेबसाइट पर अपलोड भी करेंगे। अभ्यर्थियों के वर्गवार व श्रेणीवार मेरिट के क्रम में राजकीय व निजी संस्थानों में यदि सीटें शेष रह जाती हैं तो रिक्त सीटों के सापेक्ष 12 से 21 जून तक द्वितीय चक्र के लिए अभ्यर्थियों से संस्थान का विकल्प लिया जाएगा। 29 जून को द्वितीय चक्र में आवंटित संस्थान में अभ्यर्थियों को प्रवेश दिया जाएगा। प्रदेश भर में एक साथ एक जुलाई से प्रशिक्षण सत्र का प्रारंभ होगा।

सचिव ने एनसीटीई से मान्यता प्राप्त निजी डीएलएड प्रशिक्षण संस्थानों की संबद्धता की भी की है। प्रदेश के निजी संस्थानों को 30 अप्रैल तक 2018-19 के लिए संबद्धता देने का निर्देश है। प्रत्येक सेमेस्टर छह माह में एनसीटीई के मानक के अनुसार न्यूनतम 100 कार्यदिवस पूर्ण होने के बाद परीक्षा होगी।

Share this

Related Posts

Previous
Next Post »