इलाहाबाद: 68500 शिक्षक भर्ती:-14 से पंजीकरण का प्रस्ताव, 17 मई तक लिए जाएंगे आवेदन, 27 को 10 से एक बजे तक परीक्षा। 🎯अभ्यर्थियों का बदलेगा पासिंग मार्क्‍स, शिक्षामित्रों को बड़ी राहत।

May 05, 2018
Advertisements

68500 शिक्षक भर्ती:-14 से पंजीकरण का प्रस्ताव, 17 मई तक लिए जाएंगे आवेदन, 27 को 10 से एक बजे तक परीक्षा।
🎯अभ्यर्थियों का बदलेगा पासिंग मार्क्‍स, शिक्षामित्रों को बड़ी राहत।

राज्य ब्यूरो, इलाहाबाद : योगी सरकार की सबसे बड़ी की लिखित परीक्षा कराने की तैयारियां तेज हो गई हैं। हाईकोर्ट के आदेश पर टीईटी 2017 की प्राथमिक परीक्षा में सफल हुए 4448 अभ्यर्थियों का पंजीकरण 14 मई से कराने का प्रस्ताव भेजा गया है। आवेदन की अंतिम तारीख 17 मई शाम छह बजे तक होगी। परीक्षा 27 मई को सुबह 10 से एक बजे तक होगी।
             बेसिक शिक्षा परिषद के प्राथमिक स्कूलों में 68500 सहायक अध्यापकों की भर्ती बीते 12 मार्च को होनी थी लेकिन, हाईकोर्ट में टीईटी 2017 परीक्षा को लेकर हुए आदेश के कारण टल गई थी। डबल बेंच के आदेश के बाद अब फिर तैयारियां तेज हो गई हैं। परीक्षा नियामक प्राधिकारी सचिव डा. सुत्ता सिंह ने अतिरिक्त सफल 4448 अभ्यर्थियों का रिजल्ट जारी कर दिया है। इन अभ्यर्थियों से ऑनलाइन आवेदन लेने के लिए आठ मई को विज्ञापन निकालने व 14 मई दोपहर से पंजीकरण शुरू कराने का प्रस्ताव शासन को भेजा गया है। आदेश जारी होते ही प्रक्रिया शुरू होगी। रजिस्ट्रेशन दो दिन यानि 15 मई तक होंगे। आवेदन शुल्क जमा करने की अंतिम तारीख 16 व आवेदन लेने की अंतिम तारीख 17 मई शाम छह बजे तक है। 21 मई को अभ्यर्थी सुबह 11 से शाम छह बजे तक ऑनलाइन आवेदन की त्रुटियों में संशोधन कर सकेंगे। प्रवेश पत्र 24 मई से वेबसाइट पर अपलोड किए जाएंगे। वहीं, परीक्षा 27 मई को सुबह 10 से एक बजे तक होगी। उत्तर कुंजी पांच जून को वेबसाइट पर जारी होगी और नौ जून तक आपत्तियां ली जाएंगी। परीक्षा नियामक प्राधिकारी सचिव 30 जुलाई को परीक्षाफल घोषित करेंगी और प्रमाणपत्र वितरण संबंधित जिलों के डायट से रिजल्ट से एक माह में होगा।

📚अभ्यर्थियों का बदलेगा पासिंग मार्क्‍स, शिक्षामित्रों को बड़ी राहत
             👉 प्रदेश सरकार शिक्षक भर्ती की लिखित परीक्षा में पासिंग मार्क्‍स बदलने जा रही है। पहले जारी निर्देश में सामान्य व पिछड़ा वर्ग को 45 फीसदी (67/150) और अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति के अभ्यर्थी 40 फीसदी (60/150) अंक पाकर ही उत्तीर्ण हो रहे थे। अब इसे घटाकर सभी वर्गो के अभ्यर्थियों के लिए समान किया जा रहा है। इसमें 33 फीसदी (49/150) अंक पाने वाले अभ्यर्थी उत्तीर्ण होंगे। शिक्षामित्रों की मांग पर शासन ने परीक्षा नियामक प्राधिकारी सचिव से इस संबंध में प्रस्ताव मांगा है। अगले दिनों में जारी होने वाले शासनादेश में आवेदन लेने, परीक्षा तारीख व पासिंग मार्क्‍स का जिक्र होगा। वहीं, शासन ने अभ्यर्थियों की यह मांग नहीं मानी कि उनकी लिखित परीक्षा ओएमआर शीट पर कराई जाए। इम्तिहान में अति लघु उत्तरीय प्रश्न पूछे जाएंगे।

Advertisements

Share this

Related Posts

Previous
Next Post »

Related Ads