टीजीटी-पीजीटी 2011 के रिजल्ट की मांग तेज

May 25, 2018
Advertisements

टीजीटी-पीजीटी 2011 के रिजल्ट की मांग तेज

राज्य ब्यूरो, इलाहाबाद : माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड उप्र की ओर से 2016 लिखित परीक्षा तारीख के एलान के बाद अब 2011 के लंबित रिजल्ट की मांग तेज हो गई है। प्रतियोगियों का कहना है कि अन्य परिणाम भी जारी किए जाएं, साथ ही 2018 का नया विज्ञापन भी घोषित हो।

चयन बोर्ड ने बुधवार को एकाएक आपात बैठक करके 2016 की लिखित परीक्षा की तारीखें घोषित कर दीं। गुरुवार को प्रतियोगी छात्र संघर्ष मोर्चा की हुई बैठक में अगली रणनीति बनाई गई। कहा गया कि 2011 प्रशिक्षित स्नातक व प्रवक्ता के कई विषयों का रिजल्ट रुका है, उसे भी जल्द निकाला जाए। वहीं, 2013 प्रवक्ता इतिहास का अंतिम परिणाम तैयार है। साथ ही 2009-10 में चयनित अतिरिक्त शिक्षकों का समायोजन कार्य जल्द पूरा किया जाए।

अंशकालिक अनुदेशकों का धन जारी : सर्व शिक्षा अभियान के राज्य परियोजना निदेशक की ओर से विद्यालयों में तैनात अंशकालिक अनुदेशकों का मार्च माह का भुगतान बेसिक शिक्षा अधिकारियों को भेज दिया गया है। हर अनुदेशक को 8470 रुपये का भुगतान मिलना है। यह जानकारी अपर निदेशक राजकुमारी वर्मा ने दी है।

छात्रवृत्ति नवीनीकरण 31 तक

राब्यू, इलाहाबाद : मानव संसाधन विकास मंत्रलय भारत सरकार की ओर से माध्यमिक शिक्षा परिषद की इंटर परीक्षा में 2008 से लेकर 2017 तक के ऐसे मेधावी जिन्हें छात्रवृत्ति मिल रही है। वह अपना नवीनीकरण करा लें। ऐसे छात्र-छात्रएं 31 मई तक परिषद कार्यालय के सांख्यिकी अनुभाग में प्रत्यावेदन देकर नवीनीकरण करा लें। 31 मई के बाद मंत्रलय 2008 से 2012 तक के नवीनीकरण के प्रत्यावेदन पर विचार नहीं करेगा और छात्र-छात्रओं का आवेदन निरस्त माना जाएगा। सचिव नीना श्रीवास्तव ने बताया कि सभी छात्र-छात्रएं अपने राष्ट्रीय बैंक की खाता संख्या और आधार नंबर जरूर लिंक करें, ताकि धनराशि खाते में सीधे भेजी जा सके। ऐसा न करने पर छात्र-छात्रएं ही छात्रवृत्ति न पाने के जिम्मेदार होंगे। 1

Advertisements

Share this

Related Posts

Previous
Next Post »

Related Ads