उन्नाव: जूनियर शिक्षक संघ ने बीएलओ ड्यूटी से मुक्त करने के लिए डीएम को सौंपा ज्ञापन

June 02, 2018
Advertisements

जूनियर शिक्षक संघ ने बीएलओ ड्यूटी से मुक्त करने के लिए डीएम को सौंपा ज्ञापन

उन्नाव: उत्तर प्रदेशीय जूनियर हाई स्कूल (पूर्व माध्यमिक) शिक्षक संघ द्वारा 1 जून शुक्रवार को परिषदीय स्कूलों में कार्यरत अध्यापकों को गैर शैक्षणिक कार्यों जैसे बी0एल0ओ0 ड्यूटी से मुक्त करने के लिए जिला अधिकारी एवम् मुख्य निर्वाचन अधिकारी को सिटी मजिस्ट्रेट के माध्यम से ज्ञापन दिया गया।
        संघ के प्रदेश कोषाध्यक्ष संजय कनौजिया ने बताया कि नि:शुल्क एवं अनिवार्य बाल शिक्षा अधिकार नियमावली 2011 के नियम -21 (3) में प्रावधान किया गया है कि शिक्षकों को जनगणना,राष्ट्रीय आपदा एवं निर्वाचन के अतिरिक्त किसी भी गैर शैक्षणिक कार्य में नहीं लगाया जाये। इसी प्रकरण को लेकर अपर मुख्य सचिव राज प्रताप सिंह उ0प्र0 शासन लखनऊ द्वारा 1 जून 2017 को आदेश जारी किया गया था। इससे पूर्व में भी 3 सितम्बर 2012 को तत्कालीन मुख्य सचिव उ0प्र0 शासन द्वारा भी पत्र निर्गत किया जा चुका है। इन सब आदेशों के बावजूद शिक्षकों को गैर शैक्षणिक कार्यों में लगाया जा रहा है। इसके सापेक्ष ही माननीय उच्च न्यायालय इलाहाबाद द्वारा एक जनहित याचिका पी0आई0एल0 नं0 11028/2015 की सुनवाई में 25 मार्च 2015 एवं वर्तमान में पुनः 16 मई 2018 को माननीय उच्च न्यायालय द्वारा निर्गत आदेश संo रिट -एनoएन0 11289/2018 में शिक्षकों को गैर शैक्षणिक कार्यों में लगाये जाने पर पूर्णतः रोक लगा दी है। जिलामहामंत्री सौरभ सिंह यादव ने बताया कि प्रदेश के बागपत समेत कई जनपदों के जिलाधिकारी (जिला निर्वाचन अधिकारी) द्वारा शिक्षकों को बी0एल0ओ0 ड्यूटी से मुक्त कर दिया गया है।
          जूनियर शिक्षक संघ के पदाधिकारियों द्वारा जिला अधिकारी एवम् मुख्य निर्वाचन अधिकारी से माँग की है कि जिन शिक्षकों को गैर शैक्षणिक कार्य जैसे बी0एल0ओ0 ड्यूटी जिला प्रशासन द्वारा सम्पादित करने के लिए विभाग द्वारा लगाया गया है उन्हें तत्काल कार्यमुक्त करा दिया जाये और भविष्य में शिक्षकों से गैर शैक्षणिक कार्यों को लिया जाने की अपील भी की है। ज्ञापन देते समय प्रमुख रूप से प्रदेश कोषाध्यक्ष संजय कनौजिया, डी0 डी0 पाण्डेय, महामंत्री सौरभ सिंह यादव, गजेंद्र सिंह सेंगर मंडल अध्यक्ष, ब्रजेश वर्मा उपाध्यक्ष, तरुण गुप्ता, अरुण कुमार, पवन, नरेंद्र, सुधीर, हेमंत, कुलदीप वर्मा आदि शिक्षक मौजूद रहे।

Advertisements

Share this

Related Posts

Previous
Next Post »

Related Ads