फतेहपुर : 300 स्कूलों की छतों से टपक रहा पानी,डीएम आंजनेय कुमार सिंह ने बेसिक शिक्षा विभाग को जर्जर भवनों को चिह्नित करने के निर्देश दिए

August 10, 2018
Advertisements

300 स्कूलों की छतों से टपक रहा पानी,डीएम आंजनेय कुमार सिंह ने बेसिक शिक्षा विभाग को जर्जर भवनों को चिह्नित करने के निर्देश दिए

जागरण संवाददाता, फतेहपुर : जिले के कई परिषदीय स्कूलों के भवन खस्ताहाल हैं। दो दशक पहले की बनी सैकड़ों इमारते ऐसी हैं जो गुणवत्ता के अभाव में टपक रही हैं। निर्माण कराने वालों का अता पता नहीं है जबकि प्रधानाध्यापक की जिम्मेदारी उठाने वाले शिक्षक-शिक्षिकाएं परेशान हो रहे हैं। खासे बजट की जरूरत के चलते इनका मरम्मतीकरण भी नहीं हो पा रहा है। नौनिहालों के जीवन पर आंच न आए इसके लिए इन भवनों के नीचे बच्चों को बैठने की अलबत्ता मनाही कर दी गई है। जिले में 1903 प्राथमिक एवं 747 उच्च प्राथमिक विद्यालय संचालित हो रहे हैं। इन विद्यालयों में करीब 300 ऐसे स्कूल हैं जिनकी छत से पानी टपकता है या फिर सीलन के चलते खतरा प्रतीत हो रहा है। ढकौली न्याय पंचायत के प्राथमिक विद्यालय उमरी प्रथम में बने चार कमरों में तीन कमरे बेहद जर्जर हो गए हैं। कमरे में प्लास्टर नहीं है। मलबे का ढेर लगा है। प्रधानाध्यापिका शालिनी सिंह ने बताया पानी टपकने के चलते बरामदे में बैठाकर शिक्षण कार्य कराया जाता है। इसी ब्लॉक के धनसिंहपुर, चकमीरपुर, बरौंहा, शाह आदि में आ रही दिक्कतों के चलते प्रधानाध्यापकों ने बीइओ से मामले की शिकायत की है। कमोवेश यह समस्या जिले के अन्य ब्लॉकों में है। उधर, डीएम आंजनेय कुमार सिंह ने बेसिक शिक्षा विभाग को जर्जर भवनों को चिह्नित करने के निर्देश दिए हैं।

Advertisements

Share this

Related Posts

Previous
Next Post »

Related Ads