बेसिक शिक्षा परिषद के स्कूलों में 41556 पदों पर नियुक्ति पाने को ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया मंगलवार अपरान्ह से शुरू पहले दिन ही वेबसाइट न खुलने और समय पर ओटीपी से अभ्यर्थी परेशान देर शाम तक करीब सौ से अधिक ने सूचनाएं दर्ज की

August 22, 2018

बेसिक शिक्षा परिषद के स्कूलों में 41556 पदों पर नियुक्ति पाने को ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया मंगलवार अपरान्ह से शुरू

पहले दिन ही वेबसाइट न खुलने और समय पर ओटीपी से अभ्यर्थी परेशान

देर शाम तक करीब सौ से अधिक ने सूचनाएं दर्ज की

राज्य ब्यूरो, इलाहाबाद : बेसिक शिक्षा परिषद के स्कूलों में 41556 पदों पर नियुक्ति पाने को ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया मंगलवार अपरान्ह से शुरू हुई। पहले दिन ही वेबसाइट न खुलने और समय पर ओटीपी यानी वन टाइम पासवर्ड न आने से अभ्यर्थी परेशान हुए। एनआइसी के अनुसार एक साथ कई हिट होने से यह समस्या आई है, जल्द ही स्थिति सामान्य हो जाएगी। आवेदन लेने की प्रक्रिया 28 अगस्त शाम पांच बजे तक अनवरत चलेगी।

अभ्यर्थियों ने बताया कि वेबसाइट पर लिखित परीक्षा के लिए भरा आवेदन पत्र खुल रहा है उसी में अन्य सूचनाएं देने को कॉलम बढ़ाए गए हैं। उसी में जिलों की वरीयता और शिक्षामित्रों को नियुक्ति की तारीख आदि की जानकारी भरी जा रही है। देर शाम तक करीब सौ से अधिक ने सूचनाएं दर्ज करा दी हैं।

मोबाइल नंबर को दें शपथ पत्र

लिखित परीक्षा में सफल कई अभ्यर्थियों ने बेसिक शिक्षा परिषद सचिव से अनुरोध किया कि उनका मोबाइल नंबर बदल गया है। ऐसे में आवेदन करने में परेशानी हो रही है। इसके लिए परिषद सचिव ने अभ्यर्थियों को शपथ पत्र का प्रारूप जारी किया है। उसमें नाम, पिता का नाम, निवासी, अनुक्रमांक, पुराना व नया मोबाइल देना है। इसके अलावा अभ्यर्थी को खुद का पहचान पत्र आधार, पैन कार्ड, पासपोर्ट, वोटर आइडी कार्ड में से कोई एक साक्ष्य देना होगा। पूर्व में भरे आवेदन पत्र की प्रति व अन्य साक्ष्यों के साथ 10 रुपये की नोटरी पर शपथ पत्र 26 अगस्त शाम चार बजे तक मांगा गया है। यह शपथ पत्र परिषद मुख्यालय इलाहाबाद में ही स्वीकार होंगे।

सूचनाएं बदलने की मांग

भर्ती के अभ्यर्थियों ने परिषद सचिव से लिखित परीक्षा के दौरान दी गई शैक्षिक सूचनाएं बदलने के लिए मौका देने की गुहार लगाई है। उनका कहना है कि कई अभ्यर्थियों ने अंक, अनुक्रमांक, बोर्ड, प्राप्तांक, पूर्णाक आदि भरने में गलती की है। वेबसाइट पर अभी इसमें बदलाव न करने के निर्देश हैं। यदि आवेदन के दौरान ये गलतियां दुरुस्त न हुईं तो सैकड़ों का चयन नहीं हो सकेगा, क्योंकि लिखित परीक्षा के दौरान दी गई सूचनाएं और मूल प्रमाणपत्र मेल न खाने पर चयन से बाहर होंगे। साथ ही शैक्षिक अंकों में बदलाव से गुणांक भी बदल सकता है। यह बाद में होने से चयन पर सवाल उठेंगे। परिषद ने इस संबंध में अभी निर्णय नहीं लिया है।1

Share this

Related Posts

Previous
Next Post »